Madhya Pradesh, Satpura Bhawan, Ministry Secretariat,

मंत्रालय-सचिवालय में गुरूवार से शुरू होगा काम

सावधानी को ध्यान में रखकर काम करने का निर्देश

भोपाल. कोरोना संक्रमण काल के बीच मध्य प्रदेश के मंत्रालय और सचिवालय में गुरुवार से काम शुरू (Work will start in the Ministry-Secretariat) होगा। सीएम शिवराज सिंह ने काम काज शुरू करने के लिए निर्देश जारी किया है।

यह भी पढ़े: रायपुर की पेंट फैक्ट्री में लगी आग, 3 घंटे की मशक्कत के बाद बुझी

शुरूआत में केवल 30 प्रतिशत कर्मचारी मंत्रालय और सचिवालय में काम करने पहुंचेगे और लॉकडाउन की गाइड लाइन का पालन करते हुए काम करेंगे। मध्य प्रदेश स्थित सतपुड़ा, वल्लभ भवन और विध्यांचल भवन में राज्य स्तरीय कार्यालय शुरू (Work will start in the Ministry-Secretariat) किए जाएंगे। मध्य प्रदेश में शासकीय कामकाज शुरू हो सके इसलिए शिवराज सरकार ने यह कदम उठाया है।

पॉजीटिव केसों की संख्या हो रही कम

सीएम शिवराज सिंह ने बुधवार को कहा, कि प्रदेश में कोरोना सक्रमित पॉजीटिव मरीजों की संख्या में कमी आ रही है। मृत्यू दर भी प्रदेश में घटा है। संक्रमित मरीज ठीक होने की संख्या बढ़ी है। जनता के सहयोग से कोरोना संक्रमण पर धीरे-धीरे काबू पाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें- BIG NEWS: पंजाब में दो हफ्ते और बढ़ा कर्फ्यू.. लॉकडाउन में सुबह चार घंटे छूट

जिन जिलों में कोरोना संक्रमण ज्यादा है, वहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार काम कर रही है। जिलों में स्थित राहत कैपों की लगातार निगरानी करने और उनकी समीक्षा रिपोर्ट देने का निदेश सीएम शिवराज ने शासकीय अधिकारियों को दिया है।

सामान्य प्रशासन से जारी हुआ पत्र

मध्य प्रदेश के मंत्रालय और सचिवालय खोलने (Work will start in the Ministry-Secretariat) का निर्देश सामान्य प्रशासन से जारी हुआ है। पत्र में विशेष रूप से सावधानी बरतने का निर्देश शासकीय अधिकारियों और कर्मचारियों के दिया गया है।

यह भी पढ़े: Chhattisgarh news: रूस में फंसे प्रदेश के 325 छात्र, परिजनों ने वापस लाने की मांग

आपको बता दे कि मध्य प्रदेश में लॉकडाउन लगने के बाद, मार्च के आखिरी हफ्ते में शासकीय कार्यालय बंद कर दिए गए थे। शिवराज सरकार वर्क फ्रॉम होम के तहत काम कर रही थी। अब धीरे-धीरे कार्यालय खोलने का निर्देश दिया जा रहा है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*