Wood smuggler gariaband

Wood smuggler gariaband: Lockdown में कर रहे थे लकड़ी की तस्करी, 2 तस्कर गिरफ्तार

वन अफसरों ने घेरकर पकड़ा, 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में आरोपी

गरियाबंद. Wood smuggler gariaband: गरियाबंद वन मंडल में चिरान की लकड़ी तस्करी करने का मामला सामने आया है। वन अफसरों ने मुखबिर की सूचना पर गरियाबंद के, सम्बलपुर गांव से लकड़ी बरामद की है।

तस्करी के आरोप में दो आरोपियों पर कार्रवाई की है। आरोपियों का नाम वन अफसरों द्वारा कृष्ण कुमार पांडेय, और दीनदयाल पांडेय बताया जा रहा है। दोनो तस्करों को 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है।

यह भी पढ़े: Corona in korba: संक्रमित मरीज 2 एंबुलेंस से रायपुर रवाना, बस्ती में डटे अफसर

8 अप्रैल को मिली थी सूचना

गरियाबंद (Wood smuggler gariaband) वन मंडलों के अफसरों ने बताया, कि 8 अप्रैल को लकड़ी तस्करी की सूचना मिली थी। सूचना मिलने पर मुखबिर के बताए ठिकाने में 9 अप्रैल को छापा मारा। छापे के दौरान लकड़ी, ट्रक और ट्राली बरामद की है। आरोपियों से जब्त समान की कीमत 10 लाख 10 हजार बताई जा रही है।

यह भी पढ़े: Pm conference: पीएम मोदी ने लॉकडाउन बढ़ाने के दिए संकेत

प्रधान मुख्य संरक्षक ने ली बैठक

गरियाबंद (Wood smuggler gariaband) में कार्रवाई होने के बाद गुरुवार को प्रधान मुख्य वन संरक्षक ने बैठक ली। बैठक में वन विभाग के सचिव जयसिंह म्हस्के, वनमंडलाधिकारी गरियाबंद मयंक अग्रवाल और रायपुर एसएसडी बड़गैया उपस्थित थे। बैठक में प्रदेश के तस्करों पर अभियान चलाकर कार्रवाई करने का निर्देश, प्रधान मुख्यवन संरक्षक ने दिया है।

बैठक के प्रमुख निर्देश

  • सख्ती से वनमंडल क्षेत्रों में गस्त करें।
  • ग्रामीण सोशल डिस्टेंस का पालन कर रहे या नहीं, इस बात को सख्ती से लागू करें।
  • वनक्षेत्र में घूमने वाले लोगों पर कार्रवाई करें।
  • प्रदेश के अभ्यारण्य, जू और सफारी को सेनीटराइज कराएं।
  • वन्य प्राणियों के मूवमेंट पर नजर रखें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*