दिल्ली के बाद अब झारखंड में श्रद्धा हत्याकांड पार्ट-2, शादी के 15 दिन बाद पत्नी की हत्या कर किए 12 टुकड़े

साहिबगंज। दिल्ली में सामने आई श्रद्धा मर्डर केस अभी लोगों के जेहन में जिंदा है। इस आक्रोश की आग शांत नहीं हुई है कि झारखंड के साहिबगंज में एक और दिल दहलादेने वाली वारदात हुई है। यहां दिलदार अंसारी नामक एक शख्स पर अपनी पत्नी की हत्या का आरोप लगा है। आरोपी ने अपनी पत्नी की हत्या के बाद शव के 12 टुकड़े कर डाले। फिर बारी-बारी से इन टुकड़ों को ठिकाना लगाया। मामाले की भनक लगते ही पुलिस ने आरोपी को धर दबोचा।

पुलिस अभी आरोपी दिलदार अंसारी को हिरासत में लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है. दिलदार अंसारी ने कथित रूप से अपनी दूसरी पत्नी का मर्डर किया है। पुलिस के मुताबिक, दिलदार अंसारी ने 10-15 दिन पहले ही रबिता (Rabita) से शादी की थी। मृतक महिला का नाम रबिता पहाड़िन था। वो आदिवासी समुदाय से थी। वहीं मृतक रबिता आरोपी की दूसरी पत्नी थी। प्रेम प्रंसग के बाद दोनों ने एक साथ रहने के लिए शादी रचाया था। लेकिन इसके बाद की कहानी बेहद खौफनाक वारदात हुई। बताया जा रहा है कि आरोपी ने शुक्रवार की रात को आरोपी रबिता की हत्या कर दी।

इसके बाद हत्या के बारे में किसी को पता न चले इसके लिए उसने तरकीब निकाली और शव के टुकड़े कर फेंकने लगा। गौरतलब है कि शनिवार की शाम बोरियो संथाली इलाके में आंगनबाड़ी केंद्र की निर्माणाधीन बिल्डिंग के पीछे से इंसान के पैर का टुकड़ा मिला था, जिसके बाद पुलिस ने एक्शन लिया और छानबीन शुरू की। फिर पुलिस ने कई जगहों पर छापेमारी की। इसके बाद आरोपी दिलदार अंसारी के सभी संबंधियों के ठिकानों पर छापेमारी की गई। फिर आरोपी के मामा मो. मोईनुल अंसारी के घर से मर्डर में इस्तेमाल किए गए दो धारदार हथियार बरामद किए गए. मुख्य आरोपी मो. मोईनुल अंसारी मौके से फरार है।

एसपी ने दिया ये बयान

साहिबगंज के एसपी ने कहा कि आदिवासी समुदाय से संबंध रखने वाली 22 साल की एक महिला के शव के 12 टुकड़े बरामद किए गए हैं. बॉडी के कुछ पार्ट्स अभी भी नहीं मिले हैं. उनकी खोज जारी है. मृतक महिला के पति दिलदार अंसारी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. मृतक महिला उसकी दूसरी पत्नी थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*