Who is this good initiative, first feeding the hungry, then cleaning the roads

इस कौम की अच्छी पहल, पहले भूखों को खाना खिलाया, फिर की सडक़ों की सफाई

भिलाई . कोरोना संकट के दौर में प्रवासी मजदूरों को (muslim community) महीने भर से राहत पहुंचा रही शहर के नौजवानों की टीम ने ईदुल फित्र भी अनूठे ढंग से मनाई। साज फाउंडेशन एवं भिलाई नगर मस्जिद ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में इस टीम के नौजवानों ने फोरलेन पर भरी दोपहरी से शाम तक सभी प्रवासी मजदूरों को फल, बिस्किट, मिठाई, ठंडा पेय,पानी पाऊच और मास्क वितरित किया। वहीं राहत वितरण के बाद फोरलेन टोल प्लाजा पर पड़ा कचरा, खाली पानी पाउच, पालिथिन व खाली बोरियों की भी इन युवाओं ने सफाई की।

ये भी पढ़े – लॉकडाउन 4 के नियमों का उल्लंघन कर रही कांग्रेस सरकार: सुंदरानी

जामा मस्जिद के ईमाम भी आए साथ

टीम (muslim community) के साथ जामा मस्जिद सेक्टर-6 के इमाम-खतीब इकबाल अंजुम हैदर और साज फाउंडेशन के प्रमुख मिर्जा आसिम बेग के साथ नौजवानों ने बसों में गुजर रहे सभी मजदूरों को ईद की मुबारकबाद देते हुए राहत का वितरण किया। आसिम बेग ने बताया कि पूर्व में जहां ट्रकों में मजदूर लौट रहे थे, वहीं अब प्रशासन की पहल पर अब इन मजदूरों को बसों में भेजा जा रहा है। इनमें ज्यादातर मजदूर मुंबई और महाराष्ट्र के दूसरे हिस्सों से आ रहे हैं। ऐसी ही तमाम बसों को फोरलेन पर रोक कर भरी दोपहरी में राहत प्रदान की गई। बस में बैठे प्रवासी मजदूरों ने भी ईद का मौका देख कर राहत दे रहे नौजवानों को मुबारकबाद दी।

ये भी पढ़े – छत्तीसगढ़ में कंटेन्मेंट जोन की संख्या हुई 95, पढ़े आपका जिला किस जोन में

दो महीने से जारी है ये नेक काम

आसिम बेग (muslim community) ने बताया कि ईद पर एक हजार पैकेट बिस्किट, कोहिनूरी मीठा का 960 पैकेट, 11 क्विंटल केला व अन्य फल, 500 भोजन पैकेट, 400 बोरी पानी पाउच-ठंडा पेय और 500 मास्क का वितरण इन प्रवासी मजदूरों के बीच किया गया। इस नेक काम में मुहम्मद जफर, सैयद आतिफ अली, युनूस, नदीम, इनायत, हनीफ, परवेज, जफर, साहिल, इमरान, वसीम और आसिफ ने भी बढ़-चढ़ कर हाथ बंटाया। साज फाउंडेशन एवं भिलाई नगर मस्जिद ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में पिछले दो माह से राहत का कार्य लगातार चल रहा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*