Weddings postponed by lockdown, contact with pundas for special Muhurta in June

लॉकडाउन से टली शादियां, जून में खास मुहूर्त के लिए पंड़ितों से संपर्क शुरू

रायपुर। लॉकडाउन की वजह से कई शादियां कैंसल हो गई है। (auspicious time) अब लोगों को इंतजार है कि कब लॉकडाउन खत्म हो और जोड़े विवाह के बंधन में बंध जाए। इसके लिए अब लोग खास मुहूर्त का इंतजार कर रहे हैं। ये खास दिन 29 जून को आएगा। इस दिन भड़रिया नवमीं पड़ रही है, जिसे विवाह के लिए उत्तम मुहूर्त माना जाता है। इसके लिए पंडितो को फोन किया जाने लगा है। लोग मुहूर्त से जुड़े सवाल पूछ रहे हैं।

ये भी पढ़े : चुनावी रंजिश में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या

हालांकि अभी चिंता इस बात की भी है कि क्या 18 मई से प्रदेश में लॉकडाउन खुलेगा। यदि शादी समारोह करना है तो कितने लोगों को बारात में लाने या समारोह में शामिल करने की अनुमति मिलेगी। पंड़ितों का कहना है कि जून के बाद से शुभ मुहूर्त चालू हो जाएंगे, जिसमें विवाह का योग भी बन रहा है। (auspicious time) पंड़ितों की मानें तो इस साल 64 शुभ मुहूर्त बन रहे हैं, जिनमें शादियां की जा सकती है। यदि लॉकडाउन की वजह से शादियां फिर टलटी है तो फिर अगले साल शुभ मुहूर्त की संख्या घटकर 43 हो जाएगी।

ये भी पढ़े : अहमदाबाद और लखनऊ से वापस छत्तीसगढ़ पहुंचे 472 मजदूर, खिल उठे चेहरे

एक जुलाई से लग जाएगी शादियों पर रोक

पंड़ितों का कहना है कि देशशयनी एकादशी के बाद यानी एक जुलाई से मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाएगी। यानी 25 नवंबर को एकादशी के मौके पर ही शहनाई बजेगी। (auspicious time) नवंबर माह में 2 दिन और दिसंबर माह में 7 दिन मुहूर्त रहेगा। इसके बाद अगले साल अप्रैल 2021 तक विवाह मुहूर्त के लिए इंतजार करना होगा।

ये भी पढ़े : पता नहीं वे हवाई यात्रा कब कर पाएंगे, हम हवाई चप्पल तो पहना दें : सीएम भूपेश

फिर देवउठनी एकादशी से बजेंगी शहनाइयां

पंड़ितों का कहना है कि यदि अभी लॉकडाउन की वजह से समारोह टलते हैं तो फिर देवउठनी एकादशी का दिन भी विशेष रूप से विवाह के लिए मंगलकारी होगा। इस दिन चातुर्मास के बाद भगवान विष्णु निद्रा से जागते हैं। (auspicious time) इसीलिए यह तिथि अबूझ मुहूर्त मानी जाती है। इससे पहले मांगलिक कार्यों के आयोजन लगभग बंद होते हैं।

देश-दुनिया की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*