VIP Security,

माननीयों की सुरक्षा अब पुलिस कप्तानों के भरोसे

डीजीपी डीएम अवस्थी ने जारी किया निर्देश

रायपुर. VIP Security: राज्य शासन द्वारा प्रदेश के सभी सांसदों, मंत्रियों, विधायकों और अन्य विशिष्ट व्यक्तियों की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के निर्देश दिए गए हैं। सुरक्षा की दृष्टि से विशिष्ट व्यक्तियों को सुरक्षा श्रेणी प्रदान की गई है और सुरक्षा श्रेणी के अनुरूप अंगरक्षक और सुरक्षा अधिकारी लगाए गए हैं।

इस संबंध में पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी ने मंगलवार को बैठक लेकर विशिष्ट व्यक्तियों की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने सभी पुलिस अधीक्षकों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करते हुए प्रदेश के सभी सांसदों, मंत्रियों, विधायकों और अन्य विशिष्ट व्यक्तियों की सुरक्षा व्यवस्था का ऑडिट करने को कहा है। डीजीपी अवस्थी ने कहा कि विशिष्टि व्यक्तियों के निवास तथा उनके प्रवास कार्यक्रमों पर संबंधित पुलिस अधीक्षक (VIP Security) उनकी सुरक्षा के लिए पूर्ण रूप से जिम्मेदार होंगे।

यह भी पढ़े: रायपुर रेंज के 15 निरीक्षकों को मिला प्रमोशन

वाहनों को सुरक्षा ऑडिट भी

डीजीपी ने इसके अलावा विशिष्ट व्यक्तियों को जो वाहन उपलब्ध कराए गए हैं, उन वाहनों का रख-रखाव तथा चालक एवं फॉलो गार्ड में लगाए गए बल के शारीरिक दक्षता (फिजिकल फिटनेस) का भौतिक रूप से सुरक्षा ऑडिट के निर्देश भी दिए हैं।

जारी निर्देश में उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री के प्रत्येक भ्रमण में न केवल पर्याप्त रूप से पुख्ता सुरक्षा रखी जाए, बल्कि सुरक्षा के प्रभावी प्रयास (ए.एस.एल.) भी किया जाए तथा जिले में भ्रमण के दौरान सभी गणमान्य व्यक्तियों के पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध किया जाए।

यह भी पढ़े: आईजी आनंद छाबड़ा बने इंटीलीजेंट चीफ, हिमांशु गुप्ता को इसलिए हटाया

नक्सल इलाके में नियमित जांच

डीजीपी अवस्थी द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है, कि विशिष्टि व्यक्तियों के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में खासकर बस्तर संभाग, राजनांदगांव तथा कवर्धा प्रवास के दौरान अतिरिक्त रूप से सुरक्षा व्यवस्था लगाई जाए। यदि विशिष्ट व्यक्तियों को आवागमन सड़क मार्ग से हो, तो ’’रोड़ ओपनिंग पार्टी’’ एवं ’’एंटी सेबोटेज टीम’’ द्वारा नियमित रूप से जांच करा लिया जाए। विशिष्ट व्यक्तियों के कार्यक्रम स्थल एवं विश्राम गृह में भी पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था लगाई जाए।  

इंटेलीजेंस इनपुट का अक्षरश: पालन

डीजीपी अवस्थी ने इंटेलीजेंस के इनपुट का अक्षरस: पालन करने की बात कही है। विशिष्टि व्यक्तियों के निवास तथा उनके प्रवास कार्यक्रमों पर संबंधित पुलिस अधीक्षक (VIP Security) उनकी सुरक्षा के लिए पूर्ण रूप से जिम्मेदार होंगे। गुप्तवार्ता शाखा, विशेष आसूचना शाखा एवं आई.बी. से प्राप्त सभी इंटेलिजेंस इनपुट को भी गंभीरता से पालन करने का निर्देश दिया है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*