Woman's Dead Body,

होम आइसोलेशन में रखे गए ग्रामीण ने लगाई फांसी

कांकेर के ग्राम धनोरा की घटना

कांकेर. कांकेर जिले के धनोरा गांव में होम आइसोलेशन (Villager hanged in isolation) में रखे ग्रामीण ने गुरुवार की सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। ग्रामीण ने आत्महत्या क्यों की? इसका कारण अभी अज्ञात है। परिवार की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामलें में मर्ग कायम करके जांच शुरू कर दी है।

कांकेर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कांकेर के नहररपुर विकासखंड स्थित ग्राम धनोरा में ग्रामीण द्वारा आत्महत्या (Villager hanged in isolation) की घटना को अंजाम दिया गया है। धनेरा क्वारेंटाइन सेंटर में पिछले दिनों कोरोना मरीज मिले थे।

यह भी पढ़े: लश्कर-जैश की विस्फोटक भरी कार को सुरक्षाबलों ने उड़ाया, टली पुलवामा जैसी घटना

दोनों संक्रमित मरीजों को रायपुर के एम्स हॉस्पिटल में उपचार के लिए भेजा गया था। जिस ग्रामीण ने आत्महत्या की, उसका क्वारेंटाइन सेंटर में आना जाना था। सुरक्षा की दृष्टि से ग्रामीण को बुधवार को होम क्वारेंटाइन में रहने का निर्देश दिया गया था।  

जहां किया होम क्वारेंटाइन, वहीं लगाई फांसी

जिस कमरे में ग्रामीण को रखा गया उसी कमरे में ग्रामीण ने खुद को फांसी (Villager hanged in isolation) लगा ली। मौके पर दुधावा पुलिस की टीम पहुंची है। केस में जांच की जा रही है। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिसकर्मियों को गांव में मुस्तैद रहने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा है।

बढ़ रही आत्महत्या की घटनाएं

प्रदेश में कोरोना संक्रमण फैलने की वजह से लोगों में अवसाद बढ़ रहा है। लॉकडाउन के दरिमयान प्रदेश में आधा दर्जन से ज्यादा आत्महत्या की घटनाएं, कोरोना संक्रमण इलाको में हो चुकी है। क्वारेंटाइन सेंटर और अस्पताल में आत्महत्या की घटना होने के बाद, राज्य सरकार ने क्वारेंटाइन सेंटर, होम आइसोलशेन में रुके लोगों की काउंसलिंग करने का निर्देश दिया है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*