Vejayanti Maala,

बॉलीवुड अभिनेत्री वैजयंती माला हुई 84 वर्ष की

1951 में बॉलीवुड में रखा था कदम

मुंबई। बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री वैजयंती माला (Vejayanti Maala) गुरुवार को 84 वर्ष की हो गयीं। तमिलनाडु में 13 अगस्त 1936 को जन्मीं वैजयंती माला ने अपने सिने करियर की शुरुआत महज 1 वर्ष की उम्र में एक तमिल फिल्म से की।

वर्ष 1951 में प्रदर्शित फिल्म बहार से वैजयंती माला ने बॉलीवुड में पदार्पण किया। वर्ष 1954 में प्रदर्शित फिल्म नागिन वैजयंती माला (Vejayanti Maala) के सिने करियर की पहली सुपरहिट फिल्म साबित हुयी।वर्ष 1955 में प्रदर्शित फिल्म देवदास वैजयंती माला के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में शुमार की जाती है। विमल रॉय के निर्देशन में शरतचंद्र के उपन्यास पर बनी इस फिल्म में वैजयंती माला ने चंद्रमुखी के किरदार को रुपहले पर्दे पर साकार किया है। इस फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये वह सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित की गयीं।

वर्ष 1958 में प्रदर्शित फिल्म साधना वैजयंती माला (Vejayanti Maala) के करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में शुमार है। बी.आर.चोपड़ा निर्मित-निर्देशित फिल्म साधना में वैजयंती माला अपने करियर में पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फिल्म फेयर पुरस्कार प्राप्त करने में सफल रहीं। (एजेंसी)

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*