goglpaali,

आजादी के 73 साल बाद छत्तीसगढ़ के इस गांव में पहुंची बिजली

सीएम बघेल और मंत्री लखमा के प्रयासों से गोलापल्ली में शुरू हुई बिजली व्यवस्था

रायपुर. आजादी के समय से बिजली की मांग कर रहा छत्तीसगढ़ का गोलापल्ली इलाका आखिरीकार बिजली से रौशन हो गया। गोलापल्ली (Electricity system in Golapally) में बिजली पहुंचने से ग्रामीण ने सीएम बघेल और मंत्री कवासी लखमा को आभार व्यक्त किया है।

यह भी पढ़े: हंडवाड़ा में सेना आतंकी मुठभेड़, कर्नल-मेजर सहित 5 जवान शहीद

मंत्री के प्रयासाें से पूरा इलाका बिजली से रौशन हो गया है। मंत्री कवासी लखमा जब इलाके के विधायक थे, तब से बिजली के लिए प्रयास कर रहे थे। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद अधिकारियों को निर्देश देकर गोलापल्ली इलाके में उन्होंने बिजली व्यवस्था कराई है।

तेलंगाना के रास्ते जाना पड़ता है गोलापल्ली

गोलापल्ली (Electricity system in Golapally) इलाका छत्तीसगढ़ में आता है। इस इलाके में जाने के लिए तेलंगाना होकर जाना पड़ता है। तेलंगाना के रास्ते से बिजली सप्लाई करना इस इलाके में किसी चुनौती से कम नहीं था।

यह भी पढ़े: छत्तीसगढ़ के कोरोना वॉरियर्स पर भारतीय सेना ने हेलीकॉप्टर से बरसाए फूल

छत्तीसगढ़ में आने के कारण इस इलाके में तेलंगाना सरकार बिजली सप्लाई नहीं दे रही थी। सीएम भूपेश बघेल और मंत्री कवासी लखमा के निर्देश पर जिला प्रशासन के अधिकारियों ने मॉनीटरिंग करके इस इलाके में बिजली व्यवस्था पहुंचाई है।

यह भी पढ़े: रायपुर से झारखंड के लिए रवाना होंगे मजदूर, सीएम हेमंत ने बसें भेजीं

कलेक्टर-एसपी डटे रहे मोर्चे पर

गोलापल्ली (Electricity system in Golapally) इलाके में बिजली व्यवस्था पहुंचाने के लिए सीएम भूपेश बघेल, मंत्री कवासी लखमा के अलावा प्रशासनिक अधिकारियों ने मेहनत की है। कलेक्टर चंदन सिंह और एसपी शलभ सिन्हा खुद पूरी योजना को मॉनीटर कर रहे थे और समस्या का समाधान कर रहे थे। राज्य सरकार और प्रशासनिक अधिकारियों के प्रयासों से बारिश से पूर्व इस इलाके में बिजली पहुंच गई है। बिजली पहुंचने से क्षेत्र में अन्य विकास के रास्ते भी खुलेंगे।  

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें….

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*