IPS SUSIDE,

युवक की आत्महत्या के बाद विवाद में आई ट्रेनी IPS, मीडिया को दी सफाई

मुजगहन इलाके में निवासरत युवक की आत्महत्या के मामलें ने पकड़ा तूल

रायपुर। मुजगहन इलाके में युवक की आत्महत्या का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। परिजनों के आरोपों के बीच पुरानी बस्ती थाना प्रभारी IPS रत्ना सिंह ने मीडिया से चर्चा की है। IPS सिंह ने कहा है कि वे खुद भी युवक के इस कृत्य से हैरान है।

IPS रत्ना सिंह ने कहा कि जिस युवक ने आत्महत्या की है उसके साथ पुलिस ने कहीं कोई प्रताड़ना नहीं की है। पूरी कार्यवाही के दौरान उसके व्यवहार में कोई डिप्रेशन नहीं नज़र आया और न ही कहीं कोई इस तरह की बात हुई है।

CCTV से सत्यता परखी जा सकती है

IPS सिंह ने कहा कि परिजन आरोप लगा रहे है मैं उनकी स्थिति को समझ सकती हूं। थाने का सीसीटीवी चालू है, अगर प्रताड़ना होती तो वीडियो में भी इसकी सत्यता परखी जा सकती है। यही नहीं बल्कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में प्रताड़ना जैसी कोई बात होगी तो सामने आयेगी।

उन्होंने कहा कि “मैं खुद इस घटनाक्रम से हैरान हूं। उस युवक ने खुदकुशी की, लेकिन पुलिस ने सिर्फ नियम के दायरें में रहते हुए कार्रवाई की है। महिला की शिकायत के आधार पर जाँच हुई जिसके बाद 151 के तहत कार्रवाई की गयी थी।” IPS सिंह ने फिर दोहराते हुए कहा कि युवक जब तक थाने में था बिलकुल सामान्य था, लेकिन घर जाने के बाद उसके दिमाग में ऐसी क्या बात घर कर गई जो उसने ऐसा कदम उठाया ये समझ से परे है।

ये है पूरा मामला

राजधानी के मुजगहन इलाके में एक युवक ने आत्महत्या कर ली है। इस आत्महत्या की वज़ह उसके परिजन पुलिस की कार्यवाही को बता रहे है। आत्महत्या करने वाले युवक का धर्मेंद्र आदिले हैं। धर्मेंद्र के खिलाफ पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र की एक महिला ने फोन पर परेशान करने और फेसबुक से तस्वीरें निकाल कर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था।

जिसके बाद पुलिस ने तफ्तीश कर धर्मेंद्र को हिरासत में लेकर धरा 151 के तहत कार्यवाही की थी। इस कार्यवाही के बाद धर्मेंद्र अपने घर लौटा और देर रात फांसी लगा ली थी। जिसके बाद से परिजन पुलिस प्रताड़ना का आरोप लगा रहे है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*