the con,

मुद्रा लोन दिलाने का झांसा देकर युवक से ठगे 1 लाख 45 हजार, 3 आरोपी बुलंदशहर से गिरफ्तार

जामताड़ा गिरोह के तर्ज पर पूरा गांव कर रही ठगी की घटना को अंजाम

रायपुर। मुद्रा लोन दिलाने का झांसा देकर भोले-भाले बेरोजगारों को ठगने (the con) वाले बड़े गिरोह का खुलासा रायपुर पुलिस ने किया है। आरोपियों को उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से पुलिस अधिकारियों ने पकड़ा है और उनसे बड़ी मात्रा में दस्तावेज, बैंक पासबुक, फर्जी आधार कार्ड, पेन कार्ड, 6 मोबाइल, 3 एटीएम, पेनड्राइव बरामद किया है। आरोपियों पर धारा 420 के तहत पुलिसकर्मियों ने कार्रवाई की है। आरोपियों का नाम पुलिस अधिकारियों द्वारा बुलंदशहर निवासी नीरज कुमार, आनंद स्वरूप सिंह और चंद्रवीर सिंह बताया जा रहा है।

यह है पूरा मामला

बीरगांव रायपुर निवासी पीयूष कुमार देवांगन ने आरोपियों की शिकायत 7 मई 2020 को की थी। पीडि़त ने पुलिस अधिकारियों को बताया, कि सोशल मीडिया के माध्यम से उसने सोनू कुमार नाम के व्यक्ति से संपर्क किया था। सोनू ने मुद्रा लोन दिलाने का दावा किया था। आरोपी ने ऑनलाइन लोन दिलाने का एग्रीमेंट भेजा और चार्ज के नाम पर 7 किश्तों पर 1 लाख 45 हजार 700 रुपए अपने पास ट्रांसफर करा लिए। तय समय पर आरोपी ने लोन नहीं दिलाया तो पीडि़त ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत उरला पुलिस को कर दी। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस ने जांच की और आरोपियों की घेराबंदी कर बुलंदशहर से पकड़ा। आरोपियों से अन्य ठगी (the con) के बारे में पुलिस अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं।

इन कंपनियों से लोन दिलाने का देते थे झांसा

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि, आरोपी मैक्स लाईफ इंश्योरेंस, मुद्रा लोन, इंडिया बुल्स गणेश फाइनेंस, लक्ष्मी फाइनेंस, गणपति फाइनेंस, उज्जीवन फाइनेंस, श्रीराम फाइनेंस एवं साईराम फाइनेंस से लोन दिलाने का दावा करते थे। आरोपियों ने बीमा एवं फाइनेंस कंपनियों के नाम से लाखों रुपए के स्टांप बनाकर भी रखे थे।

सोशल मीडिया में फैलाया था मायाजाल

आरोपियों ने भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फसाने के लिए सोशल मीडिया में पूरा मायाजाल बना रखा था। आरोपी ने फेसबुक, यू-टयूब और गूगल जैसी सोशल साइट्स पर अपना विज्ञापन देते थे। विज्ञापन से लिंक को कनेक्ट करते थे। जैसे ही सोशल मीडिया में कोई शख्स विज्ञापन को क्लिक करता, तो ठगों तक लिंक के माध्यम से उसका मोबाइल नंबर पहुंच जाता था। मोबाइल नंबर मिलने के बाद आरोपी विज्ञापन को क्लिक करने वाले शख्स को फोन करते थे और उसे अपनी मीठी-मीठी बातों में फंसाकर ठगी की वारदात को अंजाम देते थे। आरोपियों (the con) को पकडऩे वाली टीम को रायपुर एसएसपी अजय यादव ने 20 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*