Thug arrested,

फिर हेरा फेरी फिल्म की तर्ज पर ठगी की घटना को अंजाम देने वाले दो शातिर गिरफ्तार

आरोपियों से लैपटॉप, कैश और दस्तावेज खरोरा पुलिस ने किया जब्त

रायपुर. फिल्म फिर हेरा फेरी की तर्ज पर रायपुर के खरोरा इलाके में फर्जी कंपनी खोलकर लोगों को ठगने वो दो शातिरों (Thug arrested) को खरोरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी15 दिनों में रकम दो गुना करने का झांसा देकर लोगों से 48 लाख रुपए इनवेस्ट कराया था। पैसा जमा होने के बाद आरोपी  कंपनी में ताला मारकर फरार हो गए।

पीड़ित पैसा लेने कंपनी पहुंचे तो उन्हें अपने साथ हुई ठगी (Thug arrested) का पता चला। पुलिस ने पीड़ितों की शिकायत मिलने पर आरोपियों को तीन दिन बाद गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों का नाम  कमल देवांगन और श्रवण साहू बताया जा रहा है। आरोपियों के अन्य साथियों की पुलिसकर्मी तलाश कर रहे है।

यह भी पढ़े: तालाबों को साफ-सुथरा बनाए रखने के लिए जनभागीदारी जरूरी: सीएम बघेल

यह है पूरा मामला

आरोपी कमल देवांगन और श्रवण साहू ने अपने साथियों के साथ मिलकर खरोरा इलाके में द फ्यूचर नाम से चीटफंड कंपनी खोली थी। आरोपियों ने स्थानीय रहवासियों को 15 दिन में रकम देने का झांसा दिया और 48 लाख रुपए इनवेस्ट करा लिया।

यह भी पढ़े: छत्तीसगढ़ में हर दिन 3 हजार लोगों के सैंपल की जांच कर रहा स्वास्थ्य विभाग

लोग झांसे में आ जाए, इसलिए शुरूआत में आरोपियों ने कुछ इनवेस्टरों को रकम भी वापस की। रकम वापस मिलने का प्रचार होने पर स्थानीय रहवासियों ने अपनी जमा पूंजी आरोपियों की कंपनी में जमा कर दी, तो आरोपी रकम हडप कर फरार हो गए।

यह भी पढ़े: राजनांदगांव बना कोरोना का नया हॉट स्पॉट, प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या हुई 235

आरोपी लोगों को अपने झांसे में लेने के लिए चेन प्रक्रिया को अंजाम देते थे। समय पर पीड़ितों का पैसा वापस नहीं मिला तो पीड़िताें ने दबाव बनाया। प्रार्थी एस कुमार साहू ने इसकी शिकायत खरोरा थाने में दी थी। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने जांच की और आरोपियों (Thug arrested) को गिरफ्तार करने के बाद कैश, लैपटॉप, डेस्क टॉप, दस्तावेज जब्त किया है।  

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*