The practice of avoiding jaundice started in Durg district after learning from Raipur

रायपुर से सीख लेकर दुर्ग जिले में शुरू हुई पीलिया से बचने की कवायद

दुर्ग . नगर पालिक निगम क्षेत्र में जलजनित बीमारी पीलिया से बचाव एवं रोकथाम के लिए निगम कर्मी घर-घर जाकर clorin tablet क्लोरीन टैबलेट बांट रहे है। दुर्ग जिला प्रशासन ने रायपुर में फैले पीलिया देखते हुए यह कदम उठाना ही बेहतर समझा है।

मच्छरों के प्रकोप से रोकथाम के लिए सभी वार्डों में फॉगिंग हो रही है। स्वास्थ्य विभाग का अमला गली-मोहल्लों के क्षेत्रों में हैंड स्प्रे से फॉगिंग कार्य में जुटे हुए हैं, ताकि मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारी किसी भी व्यक्ति को न हो।

Lockdown part-2, आज से सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ाने हुई रद्द

निगम क्षेत्र में डेंगू से बचाव के लिए मलेरिया ऑयल व मैलाथियान का छिडक़ाव किया जा रहा है। निगम की टीम एवं मितानीनें घरों में जाकर सर्दी, खांसी व बुखार से पीडि़त मरीजों को तत्काल चिकित्सकीय परामर्श लेने की सलाह दे रही है।

साफ सफाई बनाकर रखें

निगम प्रशासन आमजन से अपील करती है कि अपने घर व आस-पास साफ सफाई बनाकर रखें और पीलिया से बचाव के लिए स्वच्छ पेयजल का ही इस्तेमाल पीने के लिए करें। जोन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि पीलिया जैसी जलजनित बीमारी से बचाव के लिए जोन 01 के 638 घरों में 5742 क्लोरीन टैबलेट clorin tablet जोन 2 में 5000 टैबलेट और जोन 3 के 06 वार्डों में आज घर-घर जाकर 3380 क्लोनीन टैबलेट पानी की शुद्धता के लिए बांटा गया साथ ही बताया गया कि उबला हुआ या साफ छना हुआ पानी ही पीये।

दवाई का छिडक़ाव किया जा रहा

जल जमाव वाले स्थान पर मच्छरों का प्रकोप न बढ़े। इसे रोकने टेमीफास का उपयोग किया जा रहा है और मच्छर उन्मूलन के तहत भिलाई निगम प्रशासन की ओर से प्रतिदिन शाम को हैन्ड स्प्रे व व्हीकल माउंटेड के माध्यम धुआं छोडक़र फॉगिंग किया जा रहा है।

नालियों में जाम गंदगी जैसे स्थानों पर मच्छर का लार्वा न पनप सके इसके लिए दवाई का छिडक़ाव किया जा रहा है साथ ही नाली से गंदगी हटाने के पश्चात clorin tablet ब्लीचिंग एवं चूना का छिडक़ाव किया जा रहा है। निगम की टीम घने क्षेत्र वार्डों में सर्दी, खांसी, बुखार जैसे मौसमी बीमारी से पी?ित व्यक्तियों को शीघ्र ही नजदीकी चिकित्सालय में परीक्षण कराने सलाह दे रहे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*