पेंड्रा/रायपुर . काेरोना जैसी गंभीर बीमारी को लोग मस्ती मजाक में ले रहे हैं। हाल ही में एक मामला सामने आया है जिसमें कोरोना संदिग्ध महिला का वीडियो वायरल करने पर वीडियो पोस्ट करने वाली स्टाफ नर्स शोभा बड़ा को निलंबित कर दिया है। प्रशासन की इस कार्रवाई के बाद हर तरफ हड़कंप मच गया। वीडियो बनाने वाले लैब टेक्नीशियन महिलपाल सिंह को नोटिस जारी कर 3 दिन के अंदर जवाब मांगा है। जिला दंड अधिकारी शिखा राजपूत तिवारी के आदेश पर यह कार्रवाई हुई है। हालांकि उक्त महिला की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उस महिला ने खुद की इस मामले की शिकायत जिला प्रशासन में की। जिसके बाद कलेक्टर को कार्रवाई के आदेश देने पड़े। सोशल मीडिया पर भ्रामक, अपुष्ट और फेक खबरों पर विश्वास न करें. साथ ही उसे अन्य ग्रुप में प्रसारित करने से बचें. ऐसी खबरों से आम जनता में भय और अनिश्चितता का वातावरण पैदा होता है. आम जनता केवल अधिकृत और पुष्ट जानकारी को ही सोशल मीडिया में पोस्ट करें. राज्य शासन ने यह भी निर्देश दिए है कि फेक न्यूज और अफवाह फैलाने वालों पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी. शासन ने लोगों से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस से बचाव और उपचार में प्रशासन का सहयोग करें.

महिला में कोरोना के सिमटम देख नर्स ने बनाया वीडियो, निलंबित हुई

पेंड्रा/रायपुर . काेरोना जैसी गंभीर बीमारी को लोग मस्ती मजाक में ले रहे हैं। हाल ही में एक मामला सामने आया है जिसमें कोरोना संदिग्ध महिला का वीडियो वायरल करने पर वीडियो पोस्ट करने वाली स्टाफ नर्स शोभा बड़ा को निलंबित कर दिया है। प्रशासन की इस कार्रवाई के बाद हर तरफ हड़कंप मच गया। वीडियो बनाने वाले लैब टेक्नीशियन महिलपाल सिंह को नोटिस जारी कर 3 दिन के अंदर जवाब मांगा है। जिला दंड अधिकारी शिखा राजपूत तिवारी के आदेश पर यह कार्रवाई हुई है। हालांकि उक्त महिला की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उस महिला ने खुद की इस मामले की शिकायत जिला प्रशासन में की। जिसके बाद कलेक्टर को कार्रवाई के आदेश देने पड़े।

सोशल मीडिया की अफवाह से बचें

सोशल मीडिया पर भ्रामक, अपुष्ट और फेक खबरों पर विश्वास न करें। राज्य सरकार ने इसके लिए हाल ही में आदेश जारी कर दिया है। इसमें कहा गया है कि कोरोना को लेकर गलत अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसी तरह खासी बुखार और सर्दी होने पर किसी भी तांत्रीक या बैगा के पास नहीं जाए। यह खतरनाक वायरस है। लोगों के बहकावे में भी न आएं। कुछ लोग बीमारी ठीक करने का झांसा दे तो इसकी शिकायत तुरंत टोल फ्री नंबर प दें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*