Supreme court, Refuses to meet, Rebel MLAs,

सुको ने बागी विधायको से मिलने से किया इंकार

भोपाल. भोपाल में सत्ता परिवर्तन के लिए बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट(Supreme court) में याचिका लगाई थी। सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के जज ने याचिका की सुनवाई के दौरान बागी विधायकों से मिलने से मना कर दिया। कोर्ट ने कहा कि विधायकों से मिलना उचित नहीं होगा। मामले की अगली सुनवाई गुरुवार को सुबह 10.30 बजे होगी। 

दिग्विजय सिंह ने याचिका की दायर

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कर्नाटक हाईकोर्ट में मध्य प्रदेश के बागी विधायकों से मिलने के लिए याचिका दायर की है। उन्होंने कहा कि भूख-हड़ताल को खत्म करने का फैसला तब तक नहीं लेंगे जबतक सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) और हाईकोर्ट का कोई फैसला नहीं आ जाता। बता दें कि दिग्विजय आज ही सुबह बागी विधायकों से मिलने बेंगलुरु पहुंचे। यहां विधायकों से मुलाकात  की अनुमित न मिलने पर वे धरने पर बैठ गए।

उपचुनाव के बाद फ्लोर टेस्ट

कांग्रेस(Congress) मध्य प्रदेश में फ्लोर टेस्ट खाली सीटों पर उप-चुनाव के बाद हो। समाचार एजेंसी के अनुसार याचिका पर सुनवाई के दौरान पार्टी ने राज्य विधानसभा में फ्लोर टेस्ट(Floar test) उपचुनाव तक स्थगित करने की मांग की। बता दें कि मध्य प्रदेश में तुरंत फ्लोर टेस्ट कराने को लेकर भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने याचिका दायर की है।

बागी विधायको ने कहा कांग्रेसी नेताओं से खतरा

बेंगलुरु में मौजूद 22 विधायकों ने कर्नाटक पुलिस के डायरेक्टर जनरल को पत्र लिखकर कहा है कि उनसे मिलने के लिए किसी कांग्रेसी नेता या सदस्य को अनुमति न दी जाए। कर्नाटक कांग्रेस (Congress) के अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि सुरक्षा देने वाले भाजपा नेता कौन होते हैं। यह काम पुलिस का है। डीजीपी से इस बारे में जानकारी दी गई है।  

बीजेपी ने विधायको को बनाया बंधक- कमलनाथ  

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि दिग्विजय सिंह हमारे राज्यसभा उम्मीदवार हैं। वे वहां विधायकों से मिलने गए थे, लेकिन उन्हें सुरक्षा में खतरा बताकर मिलने नहीं दिया गया। 500 जवानों की मौजूदगी में खतरा होना समझ से परे है? बीजेपी ने विधायको को बंधक बनाकर रखा है और सरकार गिराने की कोशिश कर रही है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*