Students returned from quota held at Roongta College, Bhilai, told CM, thank you

क्वारंटाइन मियाद से पहले कोटा से आए छात्र घर रवाना, जिला प्रशासन ने पालकों से लिया वचन पत्र

घर में बच्चे रहकर पूरी करेंगे 14 दिन की क्वारेंटिंन अवधि

रायपुर. Students returned from Kota 14 दिन की क्वारेंटिंन अवधि की जगह सात दिन में ही राजस्थान के कोटा से लौटे छात्रों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया। लॉकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ के फंसे छात्र-छात्राओं की एक सप्ताह पूर्व वापसी हुई थी। शाम से रायपुर जिलों के इन बच्चों के घर वापसी का कार्य रायपुर के सरदार बलबीरसिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम से शुरू हुआ।

यह भी पढ़े:  वैज्ञानिकों का दावा… ऐसी एंटीबॉडी बनाई जिससे कोरोना बढऩे से रोका जा सकेगा

कलेक्टर रायपुर डॉ एस भारती दासन ने बताया कि कोटा (Students returned from Kota) से बच्चे एक सप्ताह पूर्व छत्तीसगढ़ शासन के विशेष प्रयासों और बसों से रायपुर और विभिन्न जिलों में पहुंचे थे और यहां क्वारेन्टाइन में थे। छत्तीसगढ़ पहुंचने पर इनकी स्वास्थ्य जांच और करोना टेस्ट किया गया है।

यह भी पढ़े: पैसे नहीं दिए तो मासूम की तकिया से मुंह दबाकर कर दी हत्या, आरोपी सगा ताऊ

ये बच्चे अभी स्वस्थ हैं। 14 दिनों की कुल क्वेरेंटाइन (Students returned from Kota) अवधि में अब वे अपने घरों में रहेगे तथा सोशल डिस्टेशिग सहित अन्य निर्देशों का पालन करेंगे। घर रवानगी के पहले इसका वचन पत्र भी पालकों से लिया गया। उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले के 136 बच्चे कबीरधाम और बेमेतरा जिले में क्वारेन्टाइन किए गये थे।

यह भी पढ़े:  6 महीने के लिए मिल जाएगा ईएमआई से छुटकारा, रिजर्व बैंक करेगा घोषणा

इसी तरह रायपुर में 71 पालको सहित 8 जिलों के 704 बच्चों को क्वारेन्टाइन (Students returned from Kota) किया गया था। इन्हे भी मंगलवार उनके गृह जिले भेजा जा गया है।

इन जगहों पर रखा गया था छात्रों को

इन बच्चों को चिन्हित किये गए प्रयास आवासीय विद्यालय बालक छात्रावास सड्डू, प्रयास आवासीय विद्यालय बालिका छात्रावास गुढिय़ारी, ज्ञान गंगा स्कूल छात्रावास, एन एच गोयल स्कूल छात्रावास और राज्य वन अनुसंधान एवं प्रशिक्षण केन्द्र में ठहराया गया है।

यह भी पढ़े: नहीं चुका पाए पिछला कर्ज, खाद बीज नहीं उठा रहे किसान

यह भी उल्लेखनीय है कि कुछ बच्चे अपनी मां के साथ भी कोटा से यहां पहुंचे हैं। उन्हें भी रायपुर में क्वारेन्टाइन अवधि में गुजारने की सुविधा जिला प्रशासन द्वारा दी गई थी ।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*