durg university

कॉलेज खुलने पर अपने साथ साबुन और तौलिया लाना होगा, कमरे में 40 बच्चे

रायपुर . हेमचंद यादव विश्वविद्यालय Hemchand की कुलपति डॉ. अरुणा पल्टा ने शनिवार को संबद्ध महाविद्यालय के प्राचार्यों के साथ ऑनलाइन बैठक की। इस बैठक में 99 प्राचार्यों ने हिस्सा लिया। कुलपति ने प्राचार्यों को सलाह दी कि अगामी शैक्षणिक सत्र में सुबह 7 बजे से कक्षाएं शुरू करके दो पालियों में संचालित करें। इससे एक ही समय में बड़ी संख्या में विद्यार्थी एकत्रित नहीं होंगे और सोशल डिस्टेंस का पालन भी होगा।

शिक्षकों और कार्यालयीन कर्मचारियों को शिफ्टवार बुलाने का सुझाव दिया। कहा कि विद्यार्थियों के छोटे-छोटे समूह बनाकर अवकाश के दिनों में भी प्रायोगिक कक्षाएं संचालित करें। Hemchand university कुलपति ने आगे कहा कि सभी कॉलेज सेनेटाइज कराने होंगे, साथ ही छात्रों के लिए निर्देश निकाला जाए कि पानी की बोतल और हाथ धाने के लिए साबुन साथ रखें।

ये भी पढ़ेमंत्री सिहंदेव ने ली समीक्षा बैठक व्यवस्था पुख्ता करने के दिए निर्देश

होम वर्क, असानमेंट प्रणाली हो लागू

उच्च शिक्षा दुर्ग क्षेत्रीय अपर संचालक, डॉ. सुशीलचन्द्र तिवारी ने यूजीसी गाइडलाइंस का विस्तार से उल्लेख किया। डॉ. तिवारी ने नेशनल डिजीटल लाइब्रेरी, खडग़पुर से जुडक़र नि:शुल्क पाठ्यक्रम सामाग्री से छात्रों को पढऩे प्रेरित करने जोर दिया। कहा कि, प्रोजेक्ट वर्क, होम असाइनमेंट प्रणाली लागू कर सोशल डिस्टेंस का पालन करने किया जा सकता है। Hemchand दुर्ग साइंस कॉलेज प्राचार्य डॉ. आरएन सिंह ने कम समय में नए शैक्षणिक सत्र में प्रवेश प्रकिया पूरी करने की बात कही। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की भीड़ से बचने के लिए सभी कॉलेजों को एक दिन में प्रवेश की मेरिट सूची जारी करनी चाहिए।

तीन के बजाए दो घंटे की परीक्षा

विवि उप कुलसचिव भूपेन्द्र कुलदीप ने कहा कि यूजीसी ने परीक्षा का समय घटाकर तीन से दो घंटे किया जा सकता है। इसे हेमचंद विवि में लागू करने को लेकर आने वाली चुनौतियों पर बात की। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस बैठक का संचालन डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव ने किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*