अपहरण के छह महीने बाद परिवार के तीन सदस्यों के मिले कंकाल, मचा हड़कंप

चाईबासा । झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले में अपहरण के छह महीने बाद एक ही परिवार के तीन सदस्यों के कंकाल मिले हैं। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने कहा मृतकों की पहचान जगदीश रजक (60), शारदा देवी (55) और उनके पोते राज रजक (17) के रूप में हुई है, जिन्हें तांतनगर इलाके के सिदमा गांव से अगवा कर लिया गया था और कथित तौर पर उनके पड़ोसी विकास बेहरा तथा उनके साथियों ने मई में भूमि विवाद को लेकर उनकी हत्या कर दी थी।

उन्होंने बताया कि अपहृत व्यक्तियों का पता लगाने और आरोपियों को पकड़ने के लिए सदर अनुमंडलीय पुलिस अधिकारी दिलीप खल्को के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया था। उन्होंने कहा कि मुख्य आरोपी और उसके परिवार के सदस्य गांव छोड़कर भाग गए थे और पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ और ओडिशा में बार-बार ठिकाना बदल रहे थे।

एसपी ने कहा कि विकास बेहरा की दो पत्नियों सुष्मिता (36) और पार्वती (23) तथा साथी रसई सीकू (51) एवं शुशील जामुदा (32) को बृहस्पतिवार को पश्चिमी सिंहभूम जिले में गिरफ्तार किया गया था। अधिकारी ने कहा कि आरोपियों ने तीनों की हत्या कर दी और शव को गांव में दफना दिया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*