Sanitary napkin,

बलौदा बाजार के अफसरों ने किया ये नेक काम, प्रदेशभर में बने चर्चा का विषय

क्वारेंटाइन सेंटर में अफसरों ने महिलाओं को दिए सेनेटरी नैपकिन

रायपुर. छत्तीसगढ़ में क्वारेंटाइन सेंटरों में महिलाओं के स्वास्थ्य के साथ स्वच्छता का भी ध्यान रखा जा रहा है। इस कड़ी में नयी पहल करते हुए बलौदाबाजार जिले के 763 क्वारेंटाइन सेंटर में 16 वर्ष से 40 साल की महिलाओं को करीब 7 हजार निःशुल्क सेनेटरी नैपकिन (Sanitary napkin) दिया गया।

जिला कलेक्टर के विशेष प्रयासों से अजीज प्रेम जी फाउंडेशन की ओर से सेनेटरी नैपकिन की व्यवस्था की गई है। प्रशिक्षु आईएएस नम्रता जैन ने बलौदाबाजार तहसील के अंतर्गत ग्राम करमदा स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में महिलाओं को सेनेटरी नैपकिन (Sanitary napkin) वितरण कर इसका शुभारंभ किया। उन्होंने ने क्वारेंटाइन सेंटर की व्यवस्था के बारे में जानकारी लेने के साथ महिलाओं को सेनेटरी नैपकिन की उपयोगिता और स्वास्थ्य सुरक्षा के बारे में जागरूक भी किया।

यह भी पढ़े: माओवाद का रास्ता छोड़ अच्छा जीवन जीने ईनामी नक्सली ने किया आत्मसमर्पण

स्वास्थ्य के साथ सुरक्ष जरूरी

क्वारेंटाइन सेंटर में स्वास्थ्य विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा सेनेटरी पैड (Sanitary napkin) के उपयोग और डिस्पोजल के बारे में महिलाओं को जानकारी दी गई। जिला पंचायत सीईओ आशुतोष पाण्डेय ने बताया कि कोविड कि लडाई में महिलाओं के स्वास्थ्य सुरक्षा के प्रति सजग होना जरूरी है। बलौदाबाजार राज्य का पहला जिला है, जो इस तरह अभिनव प्रयास कर रहा।

यह भी पढ़े: होम आइसोलेशन में रखे गए ग्रामीण ने लगाई फांसी

ईट भट्ठा में काम करने वाली महाराष्ट्र के नालिन्द शहर से लौटी ग्राम करमदा निवासी 35 वर्षीय सुश्री अनिता कुंभकार ने बताया कि क्वारेंटाइन सेंटर में खाना के साथ ही हमारे स्वास्थ्य की सुरक्षा का ख्याल प्रशासन की और से रखा जा रहा है। सेनेटरी नैपकिन मिलने से हमें बहुत खुशी हैं और इसके लिए हम प्रशासन को धन्यवाद देते हैं। इस दौरान ग्राम करमदा की सरपंच सावन बघेल, महिला कमांडो सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*