Sania Mirza Retire: सानिया मिर्जा ने किया संन्यास का ऐलान, इस वजह से लिया ये बड़ा फैसला

Sania Mirza Retire: पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से तलाक की खबरों के बीच भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने एक बड़ा ऐलान किया है, जिसने उनके फैन्स को निराश भी किया है. दरअसल, सानिया ने अपने प्रोफेशनल टेनिस करियर से संन्यास का ऐलान कर दिया है. सानिया ने यह फैसला उनकी चोट को लेकर किया है. सानिया ने बताया है कि वह अगले महीने दुबई टेनिस चैम्पियनशिप में खेलेंगी.

यह चैम्पियनशिप ही सानिया के करियर का आखिरी टूर्नामेंट होगा. इस दुबई टेनिस चैम्पियनशिप का आगाज 19 फरवरी को होगा. यह एक WTA 1000 इवेंट होगा. सानिया अपने फैन्स को इसी टूर्नामेंट में आखिरी बार खेलती नजर आएंगी.

ऑस्ट्रेलियन ओपन खेलेंगी सानिया मिर्जा

36 साल की सानिया मिर्जा डबल्स में वर्ल्ड नंबर-1 भी रह चुकी हैं. बता दें कि सानिया ने पिछले साल ही ऐलान कर दिया था कि वह 2022 के आखिर में संन्यास ले लेंगी. मगर वह चोट के कारण यूएस ओपन नहीं खेल सकी थीं. ऐसे में सानिया मिर्जा इस साल का पहला ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन खेलेंगी. इसके बाद यूएई में चैम्पियनशिप खेलकर टेनिस को अलविदा कह देंगी.

पिछले साल ही संन्यास का प्लान बनाया था

सानिया ने wtatennis.com से कहा, ‘मैंने पिछले साल ही डब्ल्यूटीए फाइनल्स के बाद ही संन्यास का प्लान बनाया था. मगर राइट एल्बो चोट के कारण यूएस ओपन और बाकी टूर्नामेंट से नाम वापस लेना पड़ा था. मैं अपनी शर्तों पर जीने वाली इंसान हूं. यही वजह है कि मैं चोट के कारण बाहर नहीं होना चाहती और अब भी ट्रेनिंग ले रही हूं. यही वजह भी है कि दुबई टेनिस चैम्पियनशिप के बाद मेरा रिटायर होने का प्लान है.’

बता दें कि सानिया मिर्जा ने पांच महीने तक डेटिंग के बाद शोएब मलिक से 2010 में शादी की थी. इस कपल ने 30 अक्टूबर, 2018 को बेटे इजहान मिर्जा मलिक का स्वागत किया. अब पाकिस्तानी मीडिया में सानिया और शोएब के तलाक की खबरें सामने आ रही हैं. यहां तक दावा किया गया है कि दोनों का आधिकारिक तौर पर तलाक हो चुका है.

ये अवॉर्ड और खिताब जीत चुकीं सानिया

सानिया मिर्जा अर्जुन अवॉर्ड (2004), पद्म श्री अवॉर्ड (2006), राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड (2015) और पद्म भूषण अवॉर्ड (2016) से भी सम्मानित हैं. सानिया ने अब तक 6 बड़ी चैम्पियनशिप में मेडल जीते हैं.

उन्होंने डबल्स में ऑस्ट्रेलियन ओपन (2016), विम्बलडन (2015) और यूएस ओपन (2015) खिताब जीता है. इसके अलावा उन्होंने मिक्स्ड डबल्स में भी तीन ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन (2009), फ्रेंच ओपन (2012) और यूएस ओपन (2014) खिताब जीते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*