SAIL BSP TATA steel

देश की स्टील इंडस्ट्री का व्यापार चौपट, SAIL ने कहा.. 50 फीसदी घटा उत्पादन

रायपुर . पूरा देश इस समय कोरोना के संकट से गुजर रहा है। इस मुश्किल घड़ी में बिजनेस इंडस्ट्री को बड़ा झटका लगा है। SAIL आलम यह है कि कंपनियों की कमर टूट गई है, इससे स्टील उद्योग भी खुद को बचाकर नहीं रख पाया है। मांग घटने की वजह के स्टील कंपनियों को उत्पादन में कटौती का फैसला लेना पड़ा है। देश का सबसे बड़ा भिलाई इस्पात संयंत्र SAIL भी इससे अछूता नहीं है। निजी क्षेत्र की टाटा स्टील ने मांग में हुई कमी के कारण अपने उत्पादन को करीब 50 फीसदी घटा दिया है।

उत्पादन में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी

सरकारी क्षेत्र की भारतीय इस्पात प्राधिकरण लिमिटेड, SAIL सेल और निजी कंपनी टाटा स्टील की देश के इस्पात उत्पादन में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी है। उद्योग से जुड़े सूत्रों के अनुसार सेल और टाटा स्टील ने उत्पादन में लगभग 50 प्रतिशत कमी कर दी है। भिलाई इस्पात संयंत्र सहित तमाम लीडिंग स्टील उत्पादन कंपनियों को सबसे तगड़ा झटका SAIL कोरोना लॉकडाउन की वजह से लगा है। बीएसपी में ही उत्पादन घट गया है, क्योंकि यहां कार्यरत कर्मचारियों में से अधिकतर ने डर के मारे काम करने से इनकार कर दिया।

ऑर्डर देने के इच्छुक नहीं

अनुमान है और खरीदार भी नए ऑर्डर देने के इच्छुक नहीं हैं। संयंत्रों में सिर्फ ब्लास्ट फर्नेस और कोक ओवन बैटरी जैसे हिस्से ही काम कर रहे हैं, जिन्हें बंद नहीं किया जा सकता है। भिलाई इस्पात संयंत्र SAIL भी अपने फर्नेस को ही चालू रखा है। शेष गैर जरूरी उत्पादों पर फिलहाल ब्रेक लगा है। कोरोना की शुरुआत दौर में ही इंटरनेशनल लीडर टाटा ने साफ कह दिया था कि कोरोना वायरस महामारी से उसके कारोबार पर गहरा असर पड़ा है।

Read more – लॉन्च होने वाला है iphone-9, जानिए… क्या है बजट फ्रेंडली फीसर्च

सेल लगभग 50 प्रतिशत कमी की बात स्वीकार की है। बता दें कि कोरोना वारसर की वजह से देश की अर्थव्यवस्था का बुरा हाल है। अभी तक इस संक्रमित बीमारी से देश में 150 के करीब मौत हो चुकी है, साथ ही पॉजीटिव लोगों का आंकड़ा 5000 के करीब आ पहुंचा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*