Ruckus of laborers in Shivpuri:

मध्य प्रदेश पहुंचे मजदूरों को पुलिस ने शिवपुरी में रोका, हंगामा

विवाद की स्थिती होता देख कलेक्टर ने सम्हाला मोर्चा

शिवपुरी. कोरोना संकम्रण काल में मजदूरों ने पलायन करना शुरू कर दिया है। महाराष्ट्र में जीविकोपार्जन करने पहुंचे रविवार की रात को अलग-अलग अपनी गाड़ियों से गृह निवास के लिए रवाना हुए। मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में पुलिस ने मजदूरों को रोका, तो उन्होंने घर जाने की बात बोलते हुए हंगामा (Ruckus of laborers in Shivpuri) शुरू कर दिया।

यह भी पढ़े: Strict in lockdown: शाह बोले, राज्य लॉकडाउन का करे सख्ती से पालन

बड़ी संख्या में शिवपुरी (Ruckus of laborers in Shivpuri) के दिनारा इलाके पहुंचे मजदूर घर जाने की बात पर अड गए और सड़क पर बैठ गए। स्थिती की गंभीरता को देखते हुए शिवपुरी कलेक्टर ने मौके पर माेर्चा सम्हाला है। मजदूरों को स्क्रीनिंग के बाद घर भेजने की समझाइश दी गई, तब उसके बाद मामला शांत हुआ है।

पैदल घर की तरफ निकले मजदूर

महाराष्ट्र में पैसे कमाने गए उत्तर प्रदेश और मध्य  प्रदेश के मजदूरों ने गाड़ियों से और पैदल पलायान करना शुरू कर दिया है। दिनारा इलाके में मजदूरों (Ruckus of laborers in Shivpuri) के लिए राहत कैंप तैयार किया जा रहा है।  उत्तर प्रदेश के दतिया, झांसी और कानपुर के मजदूरों को घर भेजने के लिए शिवपुरी कलेक्टर ने झांसी कलेक्टर को जानकारी दी है। जिगना थाना प्रभारी, कलेक्टर दतिया मौके पर पहुंचकर मजदूरों को घर भेजने के इंतजाम कर रहे है।

यह भी पढ़े: SindhiaWrote A Letter: सिंधिया ने कृषि मंत्री को पत्र लिखकर की मांग, कांग्रेस ने कसा तंज

लिस्ट बनाकर रख रहे रिकार्ड

बड़ी संख्या में पहुंचे मजदूरों की शिनाख्त हो सके, उनका ट्रैवल रिकार्ड रखा जा सके, इसलिए कलेक्टर के निर्देश पर मजदूरों का पंजीयन शुरू कर दिया गया है। मजदूरों की स्क्रीनिंग भी की जा रही है। व्यवस्था ना बिगड़े, इसलिए सड़कों से मजदूरों को हटाकर पास बने राहत कैंप में जाने का निर्देश दिया जा रहा है। 

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*