रोहित शर्मा की कप्तानी से होगी छुट्टी! बांग्लादेश सीरीज के बाद BCCI लेगा कड़े फैसले, फैंस को लगेगा झटका

India vs Bangladesh 2nd ODI: भारत और बांग्लादेश के बीच वनडे सीरीज का दूसरा मैच ढाका में आज यानी 7 दिसंबर को खेला जाना है. शेर-ए-बांग्ला क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले इस मैच को जीतना भारत के लिए बेहद जरूरी है. उसके लिए यह ‘करो या मरो’ का मैच है और अगर रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम इसे हारती है तो सीरीज भी गंवा देगी. बांग्लादेश ने इसी मैदान पर पहला वनडे जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई हुई है.

रोहित की कप्तानी में टी20 वर्ल्ड कप हारा भारत

अनुभवी ओपनर रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इंडिया को टी20 वर्ल्ड कप में करारी हार झेलनी पड़ी. टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया और उसे इंग्लैंड ने मात देकर बाहर कर दिया. बाद में इंग्लैंड ने टी20 वर्ल्ड चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. रोहित टी20 वर्ल्ड कप के बाद पहली बार बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज के लिए मैदान पर उतरे और फिर से टीम हार गई. अब नजरें दूसरे वनडे पर हैं. अगर रोहित की टीम इसे भी हार जाती है तो खुद कप्तान को भी कड़ी आलोचनाओं के लिए तैयार रहना होगा.

बांग्लादेश अपने घर पर काफी मजबूत है, खासतौर से वनडे फॉर्मेट में तो उसका जलवा चलता है. बांग्लादेश ने अक्टूबर 2016 से घर में वनडे सीरीज नहीं हारी है. उसने इस बीच जिम्बाब्वे, वेस्ट इंडीज, श्रीलंका और अफगानिस्तान को मात दी. टीम के खिलाड़ी वनडे फॉर्मेट में काफी सहज दिखते हैं. टीम के मुख्य कोच रसेल डोमिंगो ने भी कहा, ‘इस फॉर्मेट में आत्मविश्वास है.’ यह जरूर है कि भारत के खिलाफ सीरीज के शुरुआती वनडे में टीम ने शानदार गेंदबाजी की लेकिन जीत उसे एक विकेट से मिली और मेहदी हसन मिराज इसके नायक रहे.

BCCI के अधिकारी नाराज

टी20 वर्ल्ड कप की हार के बाद बीसीसीआई के कई अधिकारी नाराज हैं. मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से दावा किया गया है कि भारतीय बोर्ड जल्द ही कुछ बड़े फैसले ले सकता है. अगर बांग्लादेश से भी भारत हार जाता है तो कड़े फैसले लिए जा सकते हैं. टी20 वर्ल्ड कप में मिली हार के बाद भारत की सीनियर चयन समिति में बदलाव हुआ है. इसके अलावा क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) में भी बदलाव करते हुए अशोक मल्होत्रा और जतिन परांजपे को इसमें शामिल किया गया है.

2013 के बाद नहीं मिली ICC ट्रॉफी
भारतीय टीम 2013 के बाद से कोई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत पाई है. उसने तब महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था. इसके बाद 2017 चैंपियंस ट्रॉफी, 2019 में वनडे वर्ल्ड कप, 2021 और 2022 में टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का प्रदर्शन आशा के अनुरूप नहीं रहा. भारतीय फैंस ने लंबा इंतजार किया है और उम्मीद है कि अगले साल वो इंतजार खत्म होगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ तो कई दिग्गजों पर गाज गिर सकती है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*