Relief for laborers trapped in other states

Corona crisis: दूसरे राज्यों में फंसे सूबे के मजदूरों के लिए खुला राहत का पिटारा

मुख्यमंत्री की पहल से दिगर 20 राज्यों में फंसे 64 हजार 416 मजदूरों को भेजी गई राशि

रायपुर. (Corona crisis) LOCK DOWN के चलते दिगर राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के मजदूरों के लिए अब सूबे की सरकार ने राहत का पिटारा खोला है। दरअसल अन्य 20 राज्यों में फंसे प्रवासी श्रमिकों के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 64 हजार 416 श्रमिकों को भोजन, ठहरने और चिकित्सा सुविधा सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कर उन्हें राहत पहुंचायी हैं।

इस राहत के साथ ही जरूरतमंद छह हजार 556 श्रमिकों के खाते में तत्कालिक व्यवस्था के लिए लगभग 19 लाख 12 हजार रूपए भी जमा करवाए गए हैं। छत्तीसगढ़ के श्रमिक देश के 20 अन्य राज्यों एवं चार केन्द्र शासित प्रदेशों में संकट की स्थिति में होने के संबंध में जानकारी मिली है।
संकटग्रस्त 6556 श्रमिकों को राहत पहुंचाने के लिए तात्कालिक व्यवस्था के रूप में जिला बेमेतरा के 4879 श्रमिकों के खाते में 15 लाख 45 हजार रूपए, मुंगेली जिले के 1483 श्रमिकों के खातें में एक लाख 73 हजार रूपए और कबीरधाम जिले के 194 श्रमिकों के खातें में प्रति श्रमिक 1000 रूपए की मान से एक लाख 94 हजार रूपए जमा कराया गया है।

बता दें कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा देश के अन्य राज्यों में श्रमिकों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए अधिकारियों का दल गठित कर सतत् निगरानी की जा रही है। इसके लिए श्रम विभाग द्वारा राज्य स्तर पर हेल्पलाईन नम्बर 0771-2443809, 91098-49992, 75878-22800 सहित जिला स्तर पर भी हेल्पलाईन नम्बर स्थापित किए गए हैं। हेल्पलाईन नम्बर के माध्यम से प्राप्त श्रमिकों की समस्याओं को पंजीबद्ध कर तत्काल यथासंभव समाधान किया जा रहा है।

कहां कितने मजदूर

  • जम्मू- 15855
  • महाराष्ट्र- 11718
  • उत्तरप्रदेश- 10365
  • तेलंगाना- 7927
  • गुजरात- 5599
  • मध्यप्रदेश- 1686
  • हिमाचाल प्रदेश- 1575
  • कर्नाटक- 1427
  • तमिलनाडू- 1404
  • दिल्ली- 1228

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*