Registry started in all districts including Raipur,

रायपुर, कोरबा, कटघोरा और सूरजपुर जिले में नहीं खुलेंगे रजिस्ट्री कार्यालय

प्रदेश के अन्य जिलों में हो सकेगी रजिस्ट्री

रायपुर. छत्तीसगढ़ के पंजीयन कार्यालय (Registry Office) 4 मई से खोलने का निर्देश भूपेश सरकार ने लिया है। चार मई से प्रदेश में जमीनों की खरीद फरोख्त शुरू होगी। रायपुर, कोरबा, कटघोरा और सूरजपुर जिले में पंजीयन कार्यालय ना खोलने का निर्देश सीएम भूपेश बघेल ने दिया है।

यह भी पढ़े: उद्योगें के हिसाब से अब प्रदेश में चलेगा व्यावसायिक शिक्षा का कोर्स

इन स्थानों में पंजीयन कार्यालय (Registry Office) ना खोलने की वजह कोरोना संक्रमण बताया जा रहा है। आपको बता दे कि केंद्र सरकार ने शासकीय कार्यालय खोलने के लिए गाइड लाइन जारी की है। गाइड लाइन में स्पष्ट उल्लेख है, कि रेड जोन और कोरोना हॉट स्पॉट इलाके में शासकीय कार्यालय नहीं खोले जाएंगे। केंद्र सरकार की इस गाइड लाइन की वजह से रायपुर, कोरबा, कटघोरा और सूरजपुर में पंजीयन कार्यालय नहीं खोला जाएगा।

यह भी पढ़े: बिग ब्रेकिंग: डिलीवरी ब्वॉय के माध्यम से छत्तीसगढ़ में बिकेगी शराब, 4 मई से खुलेगी दुकान

फिजिकल डिस्टेसिंग का करना होगा पालन

वाणिज्यिक कर पंजीयन विभाग मंत्रालय द्वारापंजीयन कार्यालयों को 4 मई से शुरू करने की अनुमति दी गई है। जारी आदेश में कहा गया है, कि पंजीयन की यह अनुमति भारत सरकार के गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तथा छत्तीसगढ़ शासन द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों के अधीन होगा।

यह भी पढ़े: हंडवाड़ा में सेना आतंकी मुठभेड़, कर्नल-मेजर सहित 5 जवान शहीद

पंजीयन कार्यालयों (Registry Office) में स्टाफ की क्षमता अनुसार एक तिहाई अधिकारी-कर्मचारियों की डयूटी रोस्टर बनाकर लगायी जाए। कार्यालय के संचालन का समयावधि का कड़ाई से पालन किया जाए। किन्ही कारणवश अंतिम पक्षकार का पंजीयन कार्य समयावधि पर पूर्ण नहीं होने पर उनके पंजीयन कार्य पूर्ण होने तक कार्यालय खुला रखा जाए। इस दौरान पंजीयन कार्यालयों में सोशल एवं फिजिकल डिस्टेंस का पालन सुनिश्चित किया जाए। किसी भी परिस्थिति में भीड़ एकत्रित नही होनी चाहिए।

इन निर्देशों का करना होगा पालन

  • केवल सीमित संख्या में पक्षकारों को पंजीयन कार्यालय में प्रवेश दिया जाएगा।
  • यह सुनिश्चित करने के लिए ऑनलाइन अपॉइन्मेंट प्रणाली लागू की गई है।
  • पहले से ऑनलाइन बुकिंग करने वालों को अनुमति दी जाएगी।
  • अन्य पक्षकार अथवा दस्तावेज लेखक को पंजीयन कार्यालय में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।
  • पंजीयन के दौरान फिजिकल डिस्टेसिंग का पालन किया जाएगा।
  • अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु एप इंस्टॉल करना जरूरी होगा।
  • पंजीयन कक्ष में एक बार में केवल एक दस्तावेज से संबंधित पक्षकारों-गवाहों को प्रवेश दिया जाएगा।
  • पंजीयन कार्यालयों में कार्य करने वाले समस्त अधिकारियों-कर्मचारियों एवं सर्विस प्रोवाईडर मेसर्स आई.टी.साल्यूसन के कम्प्यूटर आपरेटरों एवं डिवीजनल इंजार्च के आने-जाने के लिए पास की व्यवस्था की जाए तथा कर्मचारी न्यूनतम संख्याओं में होने चाहिए।
  • ई-स्टाम्प की व्यवस्था के लिए सभी जिलों में स्टॉक होल्डिग कापोर्रेशन के ई-स्टाम्प सेंटर खुले रहेंगे।
  • पंजीयन कार्यालय में कर्मचारियों एवं पक्षकारों को कार्यालय में प्रवेश करने से पहले सेनीटाइज किया जाएगा।
  • पंजीयन के दौरान सिगनेचरपैड और बोयोमेट्रिक डिवाइस का उपयोग करने के पहले हाथ सेनीटाइज किया जाएगा।
  • प्रत्येक दिन पंजीयन कार्यालय को दो बार सेनीटाइज करना होगा।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें….

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*