प्रचंड ठंड… यहां माइनस 1.8 डिग्री तापमान में जमा रेत का ज़र्रा-ज़र्रा, जनजीवन प्रभावित

Rajasthan Weather Forecast: राजस्थान में प्रचंड ठंड पड़ रही है. राज्य के कई इलाकों में न्यूनतम तापमान माइनस में पहुंच गया है. शीतलहर और ठंड के प्रकोप के बीच माइनस में पहुंचे तापमान से फतेहपुर शेखावाटी में तो रेत का ज़र्रा-ज़र्रा जम गया है. रेगिस्तान में जहां गर्मियों में तापमान 50 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है, वहां ठंडी हवाओं के चलते ठिठुरन और गलन बढ़ गई है.

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, राजस्थान के फतेहपुर शेखावाटी में न्यूनतम तापमान माइनस 1.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. वहीं, चुरू में भी माइनस 1 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया गया है. राजस्थान के सबसे गर्म शहर फतेहपुर शेखावाटी में खेत की मेड़ से लेकर फसलों तक पर ओस की बूंदे बर्फ की तरह जम गई हैं. ठंड से बचने के लिए लोग दिनभर अलाव का सहारा ले रहे हैं.

राजस्थान के रेतीले इलाके फतेहपुर शेखावाटी में मई और जून में धरती आग उगलती है. पारा भी 45 से 50 डिग्री सेल्सियस तक रहता है, लेकिन अब पारा माइनस 1.8 डिग्री पहुंचने पर लोग बेहाल हैं. ठंड का असर खेतों मे फसलों पर भी दिखाई दे रहा है. खेत की मेड़ के तारों पर बर्फ की बूंदें नजर आ रही हैं.

राजस्थान के बीकानेर, माउंट आबू , सीकर जैसे शहरों में तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक, 8 जनवरी के बाद से राज्य में जारी शीतलहर और कोहरे से राहत मिलेगी. बता दें कि तापमान जमाव बिंदू पर पहुंचने के कारण सीकर कलेक्ट्रर अमित यादव ने सरकारी व निजी स्कूलों के नर्सरी से आठवीं तक के स्कूलों की 7 जनवरी तक छुट्टी कर दी है.

फतेहपुर कृषि अनुसंधान केंद्र पर न्यूनतम तापमान माइनस 1.8 डिग्री और अधिकतम तापमान 19. 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. सीकर में न्यूनतम तापमान माइनस 1.5 डिग्री और अधिकतम 18 डिग्री दर्ज किया गया. बीते दिन की बात करें तो राजस्थान में चूरू का न्यूनतम तापमान 1.0, बारा का 1.1 डिग्री सेल्सियस, जयपुर, पिलानी और कोटा में न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस, गंगानगर में 4.7, उदयपुर में 5.8, जोधपुर में 6.5, जैसलमेर में 6.2, अजमेर में 4.4 और बाड़मेर में 7.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के अनुसार, आगामी दो दिन तक प्रदेश में शीतलहर व कोहरे के साथ सर्दी का असर कायम रहेगा. जबकि इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ सक्रीय होने के बाद सर्दी से कुछ राहत मिलने की संभावना है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*