Quarantine Center,

छत्तीसगढ़ का पहला क्वारेंटाइन सेंटर जहां रखा जाएगा सिर्फ गर्भवती महिलाओं को, इस जिले में है स्थित

सीएम भूपेश बघेल के निर्देश पर बिलासपुर के केसला गांव में बना पहला क्वारेंटाइन सेंटर

रायपुर. कोरोना काल में गर्भवती माताओं, बच्चों और वृद्धजनों को किसी तरह की परेशानी ना हो, इसलिए सीएम भूपेश बघेल ने क्वारेंटाइन सेंटरों (Quarantine Center) में विशेष व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। सीएम बघेल के निर्देश पर बिलासपुर जिले के ग्राम केसला में प्रवासी गर्भवती महिलाओं के लिए प्रदेश का पहला पृथक से क्वारेंटाईन सेंटर शुरू किया गया है। इस क्वारेंटाईन सेंटर में राज्य के बाहर से वापस लौंटी प्रवासी महिला श्रमिक जो गर्भवती है, उनकों ठहराया गया है ताकि उनकी बेहतर तरीके से देखभाल हो सके।

यह भी पढ़े: जो संकट भाजपा सरकार ने खड़ा किया, उसे छत्तीसगढ़वासी झेल रहे हैं: त्रिवेदी

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को बनाया क्वारेंटाइन सेंटर

बिलासपुर जिले के ग्राम केसला में गर्भवती माताओं के लिए वहां स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में अलग से क्वारेंटाईन सेंटर (Quarantine Center) बनाया गया है। यह प्रदेश का पहला ऐसा क्वारेंटाईन सेंटर है जिसमें सिर्फ गर्भवती महिलाओं को रखा गया है। वर्तमान में इस सेंटर में 8 महिलाएं रूकी हुई हैं। जिनके लिये सभी तरह की आवश्यक व्यवस्था यहां उपलब्ध करायी जा रही है।

यह भी पढ़े: राहुल गांधी ने लॉकडाउन को फेल बताकर केंद्र सरकार पर बोला हमला

इस क्वारेंटाईन सेंटर में महिला डॉक्टर एवं स्टाफ नर्स तैनात किए गए है जो निर्धारित गाईडगाईन के अनुसार स्वयं और इन महिलाओं की सोशल डिस्टेसिंग, मास्क, फेसशील्ड और अन्य जरूरी सावधानियों के साथ चिकित्सा सुविधा प्रदान कर रही हैं। यहां पर गर्भवती महिलाओं को विशेष देखभाल के साथ-साथ उन्हें स्वच्छता और हाईजिन के लिये भी प्रेरित किया जा रहा है।   

तीन बार होता है सेनीटाइज

विभागीय अधिकारियों ने बताया कि क्वारेंटाइन सेंटर (Quarantine Center) में रूकी सभी महिलाओं के स्वास्थ्य जांच के साथ ही कोरोना जांच के लिये उनके सैम्पल लिए गए है। यहां गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक भोजन, चाय, नाश्ता उपलब्ध कराया जा रहा है। संक्रमण से दूर रखने के लिये क्वारेंटाईन सेंटर में 24 घंटे में तीन बार साफ-सफाई की जा रही है।

यह भी पढ़े: भारत में कोरोना का कहर जारी, संक्रमण के मामलें में विश्व में पहुंचा 6वें पायदान पर

इस क्वारेंटाईन सेंटर की प्रभारी डॉ. प्रिया रावत ने बताया कि गर्भवती माताओं को मास्क की उपयोगिता, स्वयं तथा उनके गर्भ में पल रहे शिशुओं की समुचित देखभाल हेतु जरूरी सलाह दी जा रही है। इन महिलाओं का टीकाकरण भी किया गया है जिससे उनके तथा गर्भस्थ शिशु को बीमारियों से मुक्त रखा जा सके। इस सेंटर में महिलाएं खुशी-खुशी रहकर अपना क्वारेंटाईन अवधि पूरी कर रही हैं ।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*