Prisoner dies during treatment, prison guards cremated body

इलाज के दौरान बंदी की मौत, जेल के आरक्षकों ने किया शव का अंतिम संस्कार

रायपुर . कोरोना और उसके लॉकडाउन Central jail ने हर किसी को बेबस कर दिया है। आलम यह है कि लोग अपनों को आखिरी बार देखने को भी नहीं पहुंच पा रहे। इसी बीच कुछ मानवीय चेहरे फरिश्ता बनते नजर आते हैं। ऐसा ही कुछ पुलिस ने भी किया है। केंद्रीय जेल में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे कैदी Central jail की इलाज के दौरान मौत हो गई। इसकी सूचना बंदी के परिजनों को दी गई तो उन्होंने लॉकडाउन का हवाला दे दिया। फिर क्या था पुलिस ने ही इस बंदी का अंतिम संस्कार किया। यह बंदी करदना गांव, थाना बतौली का निवासी था।

ये भी पढ़े – सोनिया गांधी की बैठक में गहलोत बोले, राज्य को 10 हजार करोड़ का नुकसान

बताया जा रहा है कि 8 अप्रेल को आठ अप्रेल को रायपुर के निजी अस्पताल में उसे भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हो गई। इसकी सूचना अंबिकापुर केंद्रीय जेल Central jail को भी दे दी गई। परिवार वालों को जब शव लेने के लिए बुलाया गया तो उन्होंने कोरोना लॉकडाउन की बात बताई। इस पर गंज थाने के आरक्षक मनमोहन तंदुलाने ने केंद्रीय जेल रायपुर के कर्मचारियों के साथ मिलकर देवेंद्र नगर मुक्तिधाम में सहेत्तर सिंह का अंतिम संस्कार किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*