palghar n

Palghar Murder Case: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मांगा महाराष्ट्र सरकार से रिपोर्ट

मामलें में अब तक 101लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी

दिल्ली. महाराष्ट्र के पालघर जिले में हुई जूना अखाड़े के दो साधुओं और उनके ड्राइवर के मौत की गूंज दिल्ली तक गई है। केंद्रीय गृह सचिव ने पूरे मामलें में महाराष्ट्र सरकार से रिपोर्ट (Palghar Murder Case) मांगी है। बच्चा चोर समझकर भीड़ ने तीनों को रोका और गाड़ी से निकालकर पीटना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़े: CM tweet : सीएम रिलीफ फंड से 28 जिलों को मिलेंंगे 25-25 लाख रूपए

सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची तो भीड़ ने पुलिस पर भी हमला कर दिया। पुलिस गाड़ी और घायलों को छोड़कर भाग गई थी। मामलें ने राजनैतिक मुद्दा बना तो पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पूरे मामलें की रिपोर्ट मांगी है। 

अंतिम संस्कार में शामिल होने जा रहे थे संत

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जूना अखाड़े के दो साधु सुशील गिरी महाराज और चिणे महाराज, कल्पवृक्षगिरी ड्राइवर निलेश के साथ मुंबई से सूरत जा रहे थे। दोनो अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए कांदिवली से तकरीबन 120 किलोमीटर का रास्ता तय किया थे।

यह भी पढ़े: Central Home Secretary Letter: लॉकडाउन का ये राज्य नहीं कर रहे पालन, केंद्रीय सचिव ने पत्र लिखकर दी चेतावनी

वे महाराष्ट्र के पालघर (Palghar Murder Case) जिले पहुंचे इस दौरान कुछ लोगों ने तीनों की गाड़ी रोक ली। भीड़ ने साधुओं पर कुल्हाड़ी, लकड़ी, समेत दूसरे हथियारों से हमला बोल दिया। घटना के बाद पुलिस ने तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घाषित कर दिया।  

101 लोगों की गिरफ्तारी

पालघर हत्या मामलें (Palghar Murder Case) में पुलिस अब तक 101 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। इनमें से कुछ नाबालिक भी है। महकमें के आला अधिकारियों ने लापरवाही बरतने के मामलें में कासा पुलिस स्टेशन के इस्पेक्टर समेत दो लोगों को सस्पेंड कर दिया है। 

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*