padhee tunhar duaar portal,

छात्रों के भविष्य से खिलवाड़, 37 शिक्षकों को नोटिस जारी

पढ़ई तुंहर दुआर पोर्टल से ऑनलाइन क्लास लेने में शिक्षक कर रहे लापरवाही

रायपुर. कोरोना संक्रमण काल में स्कूलों के छात्रों का सिलेबस पूरा कराने के लिए राज्य सरकार ने पढ़ई तुंहर दुआर पोर्टल (padhee tunhar duaar portal) की शुरुआत की थी। इस पोर्टल के माध्यम से शिक्षकों को छात्रों की ऑनलाइन क्लास लगाने का निर्देश था। विभाग ने सभी शिक्षकों को इसके लिए आईडी भी जारी की थी। शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन क्लास लेने में लापरवाही बरती जा रही है, ऐसी जानकारी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को मिली थी।

यह भी पढ़े: आपसी विवाद में जवानों ने एक दूसरे पर बरसाई गोलियां, 2 की मौत

जानकारी मिलने पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने पोर्टल में ऑनलाइन जानकारी निकाली। पोर्टल में अपनी आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल ना करने वाले 37 शिक्षकों को विभागीय अधिकारियों ने नोटिस जारी किया है। नोटिस जारी करके विभाग ने शिक्षकों से स्पष्टीकरण मांगा है। नोटिस का जवाब नहीं देने वाले शिक्षको पर कार्रवाई करने की बात शिक्षा विभाग के अधिकारी कह रहे हैं।

21 लाख 26 हजार 791

पढ़ई तुंहर दुआर पोर्टल (padhee tunhar duaar portal) में स्कूल शिक्षा विभाग के 21 लाख 26 हजार 791 विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया है। पंजीयन करने वाले विद्यार्थियों को अच्छी शिक्षा मिल सके, इसलिए प्रदेश के 1 लाख 88 हजार 900 शिक्षक इस पोर्टल में पंजीकृत होकर छात्रों को शिक्षा देने का काम कर रहे है। इन शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन वर्चुअल क्लास लगाई जाती है।

छात्रों को होमवर्क दिया जाता है। छात्रों का होमवर्क भी ऑनलाइन चेक किया जाता है। पोर्टल जांच के दौरान 37 शिक्षकों की आईडी लंबे समय से बंद मिली। इन शिक्षकों द्वारा छात्रों का होमवर्क भी चेक नहीं किया गया है। इसी बात को आधार मानते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने लापरवाही करने वाले शिक्षकों को नोटिस जारी किया है। 

यह भी पढ़े: RDA के नए सीईओ डॉ. तंबोली ने संभाला कार्य

तकनीकी दिक्कत भी

शिक्षा विभाग के डीपीसी केसी पटले ने बताया, कि पोर्टल में कुछ तकनीकी दिक्कत भी आ रही है। तकनीकी दिक्कत होने की वजह से कुछ शिक्षक अपनी आईडी से पोर्टल (padhee tunhar duaar portal) के अंदर लॉगिन नहीं कर पा रहे है। जिन शिक्षकों को नोटिस जारी किया है, उन्हें विभाग आकर अपनी आईडी का इस्तेमाल करके समस्या का बताने का निर्देश दिया है। विभाग आकर आईडी का इस्तेमाल करने पर, यदि शिक्षकों की आईडी लॉगिन नहीं करेगी, तो शिक्षको पर कार्रवाई नहीं होगी। शिक्षक रोजाना छात्रों को ऑनलाइ पढ़ाए और उनको दिए गए, सिलेबस की जांच करें, इसलिए भी ये सख्ती की जा रही है।

देश प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*