Bought paddy,

लंबित टोकनधारी किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 20 मई से

उपार्जन केन्द्रों में 20, 21 और 22 मई को होगी 36.64 करोड़ की धान खरीदी

रायपुर. सीएम भूपेश बघेल के निर्देशानुसार, खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर धान बेचने से वंचित रह गए टोकनधारी कृषकों के धान की खरीदी (Bought paddy) 20 मई से की जाएगी। सीएम की इस घोषणा के परिपालन से 4 हजार 549 टोकनधारी कृषकों से 2 लाख 803 क्विंटल धान का उपार्जन किया जाएगा। जिसका मूल्य 36 करोड़ 64 लाख 66 हजार 442 रूपए होगा। राज्य शासन द्वारा किसानों के हित में लिए इस महत्वपूर्ण निर्णय से वंचित टोकनधारी कृषकों के धान की खरीदी समर्थन मूल्य पर 20, 21 एवं 22 मई को होगी।

यह भी पढ़े: पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों से नाराज हुए मंत्री ताम्रध्वज साहू

देर रात निर्देश जारी

टोकनधारी किसानों की धान खरीदी हो सके, इसलिए खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा निर्देश (Bought paddy) जारी किया गया है। यह निर्देश प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ एवं कलेक्टरों के नाम है। इस पत्र में उपार्जन केन्द्रों में आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए लंबित टोकनों के एवज में धान की खरीदी करने को कहा गया है।

यह भी पढ़े: Rice from E app: बिना राशनकार्ड वालों को ई एप से चावल देगी भूपेश सरकार

यहां यह उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान खरीदी की अंतिम तिथि 20 फरवरी 2020 निर्धारित की गई थी। निर्धारित समयावधि में कतिपय कारणों से 4 हजार 549 जारी टोकन के बावजूद भी समर्थन मूल्य पर धान खरीदी नहीं हो सकी थी।

इन जिलों के किसान है वंचित

छत्तीसगढ़ राज्य में खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर धान बेचने से राज्य के बस्तर, बीजापुर, दंतेवाड़ा, कांकेर, कोण्डागांव, सुकमा, बिलासपुर, मुंगेली, रायगढ़, बेमेतरा, कवर्धा, रायपुर, बलरामपुर, कोरिया एवं सरगुजा जिले के 4549 टोकनधारी कतिपय कारणों से वंचित रह गए थे। उक्त जिलों में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए कुल 26 हजार 248 टोकन जारी किए गए थे।

यह भी पढ़े: ODF Plus State: देश का इकलौता ओडीएफ प्लस राज्य बना छत्तीसगढ़

जिसके एवज में 10 लाख 52 हजार 230 क्विंटल 33 किलो धान की खरीदी की जानी थी। निर्धारित तिथि तक उक्त जिलों में 21,699 टोकन के जरिए 8 लाख 51 हजार 426 क्विंटल 88 किलो धान की खरीदी हो पाई थी। कतिपय कारणों से 4549 टोकन लंबित रह गए थे। इन लंबित टोकनों के जरिए 20, 21 एवं 22 मई को समर्थन मूल्य पर खरीदी से शेष रह गई धान की मात्रा 2 लाख 803 क्विंटल 53 किलो धान (Bought paddy)का उपार्जन किया जाएगा।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*