Sextortion : Social Media वाली ‘गर्लफ्रेंड’ Video Call पर उतारेगी कपड़े फिर… इस गंदे खेल से आप रहे सावधान

नई दिल्ली। Online Dating के बढ़ते मामलों के बीच Sextortion के केस बढ़ते ही जा रहे हैं। ऐसे में अगर आप सोशल मीडिया वाली गर्लफ्रेंड के चक्कर में आते हैं तो इस जाल में फंस जाएंगे। आपको ये जानकर बेहद हैरानी होगी कि Sextortion के खेल में लोग आसानी से फंस जा रहे हैं। यही वजह है कि इसके मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

ऐसे होती है इस गंदे खेल की शुरूआत

अगर आप Online Dating करते हैं तो आपको और भी ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। लूटेरे ऐसे लोगों को ही अपना शिकार बनाते हैं। सबसे पहले आपसे लड़की बनकर ऑनलाइन दोस्ती की जाएगी. वीडियो कॉल स्वीकार करते ही सामने वाला कपड़े उतारेगा और आपका रिएक्शन रिकॉर्ड कर लेगा। जब आप पूरी तरह से फंस जाएंगे तब आपसे वसूली करेंगे। से साझा करने से बचाने के एवज में मोटी रकम की मांग करता है। ऐसे में जरूरी है कि इससे बचने के लिए आपको इन बातों का ध्यान रखना बेहद ही जरूरी है।

ऐसे लोग आसानी से आ रहे झांसे में..

इंटरनेट पर रिपोर्ट की गई कई घटनाओं ने हाल ही में इसे उजागर किया है। इनमें ज्यादातर पुरुष यूजर्स Sextortion का शिकार हो रहे हैं। बता दें कि स्कैमस्टर पुरुष यूजर्स को टारगेट करते हैं और स्ट्रिपिंग दिखाने के लिए दूसरी तरफ एक महिला का उपयोग करते हैं। जबकि वीडियो कॉल फ्रंट कैमरे को स्वीकार करने पर डिफ़ॉल्ट रूप से सक्षम करते हैं।

इस घटना से आप पूरा खेल समझे

बता दें कि इंटरनेट पर सुविधा बढ़ने से सोशल मीडिया में क्राइम के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। इनमें Sextortion के मामलों में भी तेजी से बढ़े हैं। देश के विभिन्न हिस्सों से कई पीड़ितों ने शिकायत दर्ज की है। सामने आए एक मामले के बारे में बताते हैं। जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। दरअसल, बेंगलुरु के एक 24 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर को शामिल किया गया था जो एक डेटिंग ऐप पर था। उसने रीटा (बदला हुआ नाम) नाम की एक महिला के साथ मेल किया और दोनों ने एक-दूसरे को मैसेज करना शुरू कर दिया, और नंबरों का आदान-प्रदान भी किया। एक रिपोर्ट में सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने कहा, ‘नंबरों का आदान-प्रदान करने के एक दिन बाद मुझे एक वॉट्सएप वीडियो कॉल आया। मैंने इसका उत्तर दिया और मेरे डरावने रूप में देखा कि दूसरे छोर पर महिला अपने कपड़े उतार रही थी। मैंने कुछ ही सेकंड में कॉल काट दी, लेकिन उनके लिए यह काफी था, उन्होंने इसे एडिट किया था जैसे कि मैंने एक्ट में हिस्सा लिया था और काफी समय से वीडियो कॉल पर था।’

आखिरकार, वीडियो का इस्तेमाल सॉफ्टवेयर इंजीनियर को 2000 रुपये देने के लिए ब्लैकमेल करने के लिए किया गया। सामने से उसे बार-बार ब्लैकमेल किया जा रहा था। उसने तुरंत उस नंबर को ब्लॉक कर दिया। इस तरह देशभर में ऐसे मामले सामने आए हैं। वहीं एक बार कॉल करने के बाद घोटालेबाज किश्तों में पैसे मांगते रहते हैं। एक घटना में व्यक्ति को आत्महत्या का प्रयास करते भी देखा गया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*