khojee kutte,

अब खोजी कुत्ते तलाशेंगे कोरोना संक्रमित मरीज

फिनलैंड ने शुरू की पहल

फिनलैंड. कोरोना संक्रमित मरीजों की शिनाख्त करने के लिए फिनलैंड में अब खोजी कुत्तों (khojee kutte) की मदद ली जाएगी। हेलिंस्की हवाई अड्डे पर हाल ही में चार प्रशिक्षित खोजी कुत्तों की तैनाती की गई है। शोधकर्ताओं का दावा है कि खोजी कुत्ते संक्रमितों की पहचान कराना कोविड काल में सस्ता और प्रभावशाली विल्प साबित हो सकता है।

10 सेकेंड के अंदर कर सकते है शिनाख्त

हेलिंस्की यूनिवर्सिटी से जुड़ी एना हेल्म-बोर्कमैन ने बताया कि खोजी कुत्ते (khojee kutte) 10 सेकेंड के भीतर सार्स-कोव-2 वायरस की मौजूदगी भांप सकते हैं। हवाई अड्डों से लेकर अस्पतालों, होटल-रेस्तरां, स्टेडियम, थिएटर और सांस्कृति केंद्रों तक में पहुंचने वाले लोगों की संक्रमण पुष्टि करने के लिए इनकी मदद ली जाएगी।

इस तरह होगी जांच

बोर्कमैन ने बताया कि हेलिंस्की हवाई अड्डे पर उतरने वाले यात्रियों को सामान लेने के बाद एक टिश्यू पेपर दिया जाता है। यात्री टिश्यू पेपर से अपनी त्वचा पोंछकर कांच के एक कंटेनर में डालते हैं। कंटेनर को पास के एक ही बूथ पर रख दिया जाता है, जहां अन्य गंध से लैस टिश्यू पेपर वाले डिब्बे भी रखे होते हैं। खोजी कुत्ते (khojee kutte) सभी कंटेनर में रखे टिश्यू पेपर को सूंघते है। टिश्यू पेपर सूंघन के बाद कुत्ते यदि जम्हाई लेकर, गुर्राकर या लेटकर वायरस की मौजूदगी का संकेत देते है, तो यात्री की स्वैच जांच की जाती है। स्वैब जांच की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर यात्री को क्वारंटाइन कर दिया जाता है।

100 प्रतिशत सटीक नतीजे

हेलिंस्की हवाईअड्डे पर उन कुत्तों की तैनाती की गई है, जो कैंसर, डायबिटीज जैसी बीमारियों के मरीजों की शिनाख्त करने में सफल हुए है। जून में प्रकाशित एक फ्रांसीसी अध्ययन में दावा किया गया था, कि सार्स-कोव-2 वायरस से संक्रमित मरीजों के पसीने की दुर्गंध स्वस्थ लोगों से अलग होती है। खोजी कुत्ते महज 10 से 100 अणुओं की मौजूदगी होने पर भी कोरोना संक्रमण की पोल खोलने में सक्षम हैं।

16 कुत्तों किए जा रहे तैयार

कुत्तों को गंध की शिनाख्त करने में पारंगत बनाने वाले संगठन ‘वाइज नोज’ ने बताया कि वह कोरोना संक्रमितों की पहचान के लिए 16 खोजी कुत्ते तैयार कर रहा है। इनमें से 10 एयरपोर्ट पर तैनात होंगे। 4 ने हेलिंस्की हवाई अड्डे पर सेवाएं देनी शुरू भी कर दी हैं।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*