bank

Negligence in social distancing: ये लापरवाही, दे सकती है कोरोना को न्योता..

जनधाता खाते से राशि निकालने में उड़ा रहे सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

रायपुर। Negligence in social distancing: प्रधानमंत्री जन-धन खाताधारकों के खातों में केंद्र सरकार ने 500 रुपये प्रत्येक खाते में जारी किए है। पैसे जारी होने से राजधानी के बैंकों में लोगों की भीड़ जुटना शुरू हो गई। लॉकडाउन जारी होने के बाद भी बैंकों में सोशल डिस्टेंस नियम की धज्जियां उड़ रही है।

शहर के विभिन्न बैंकों में सुबह 10 बजे से ही भीड़ लगनी शुरू हो गई थी। गुढियारी के बैंक ऑफ बड़ौदा ब्रांच व भारतीय स्टेट बैंक में महिलाओं की लंबी कतार देखी गई। महिलाएं केंद्र सरकार की ओर से जमा की गई राशि का आहरण करने के लिए पहुंची थीं।

यह भी पढ़े: lockdown in cg: छत्तीसगढ़ के बस ऑपरेटर रोजाना 450 करोड़ का नुकसान

महिलाओं की यह लापरवाही कोरोना को न्योता दे रही है। बैंक के जिम्मेदार अधिकारियों ने मामलें में चुप्पी साध रखी है।

हर कोई जूझ रहा है आर्थिक संकट से

लॉकडाउन की विषम परिस्थिति में लोग आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं। राशि जारी होना राहत की खबर बन कर खाताधारको के लिए आई है। जनधन खाते से राशि निकालने की होड़ लोगों के साथ बैंक कर्मियों को भी परेशान कर रही सामान्य दिनों में होने वाले लेन-देन की अपेक्षा शुक्रवार को भीड़ अधिक होने से लोगों को हलकान होना पड़ा है।

खाते हो गए ब्लाक

जन-धन योजना के तहत खुलवाए गए खाते ट्राजेक्शन नहीं होने से बंद हो गए हैं। खाता ब्लॉक होने के कारण लोगों को बैंकों से निराश होकर लौटना पड़ रहा है। बैंक में लग रही भीड़ (Negligence in social distancing)को हटाने में प्रशासन भी बेबस नजर आ रही है।

सड़क से लगे बैंकों में जगह कम होने से सोशल डिस्टेंसिंग (Negligence in social distancing) नियम का पालन नहीं हो रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होने पर रायपुर कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने निर्देश जारी किया है। उन्होने बैंक मैनेजरों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए व्यवस्था करने की बात कही है।

यह भी पढ़े: Corona Effect In Raipur Rail Mandal: रेलवे को हर दिन हो रहा 1.1 करोड़ का नुकसान

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*