inteligence

बिग ब्रेकिंग: इंटेलीजेंस की निगरानी में रहेंगे प्रदेश के डॉक्टर-स्वास्थ्यकर्मी

सीएम भूपेश बघेल ने जारी किया निर्देश

रायपुर. कोरोना संक्रण का उपचार कर रहे डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों से र्दुव्यवहार करना, अब लोगों को भारी पड़ सकता है। डॉक्टर-स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के लिए भूपेश सरकार ने निर्देश जारी किया है। डॉक्टर-स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर अब इंटेलीजेंस (Monitoring Of Intelligence) की नजर रहेंगी।

यह भी पढ़े: Corona In DELHI: दिल्ली में एक ही गलि के 46 लोग निकले कोरोना पॉजीटिव, हडकंप

डॉक्टर-स्वास्थ्यकर्मियाें से र्दुव्यवहार करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मामलें की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने एआईजी राजेश अग्रवाल को नोडल अफसर बनाया है। इंटेलीजेंस के अफसरों को नोडल बनते ही एआईजी राजेश अग्रवाल ने निर्देश भी जारी कर दिया है। एडीजी इंटेलीजेंस (Monitoring Of Intelligence) की निगरानी में पूरी प्रक्रिया का आयोजन किया जाएगा।

गृह विभाग ने जारी किया आदेश

डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के मद्देनजर गृह विभाग ने यह आदेश गुरुवार को जारी किया है। आदेश जारी होने के बाद से इंटेलीजेंस टीम (Monitoring Of Intelligence) को एक्टिव रहने और डॉक्टर-स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला करने वालों को गिरफ्तार करके कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है।

यह भी पढ़े: Pramotion List: 57 ASI बने सब- इंस्पेक्टर, DGP ने दिया आदेश

केंद्र सरकार ने अध्यादेश लागू किया

केंद्र सरकार ने बुधवार को एक अध्यादेश लागू किया है। अध्यादेश के तहत स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 3 महीने से लेकर 5 साल तक सजा और लाखों रुपए का जुर्माना केंद्र सरकार ने तय किया है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*