Minister Dahria said ... Jaundice spread in Raipur Municipal Corporation's mistake, commissioners removed

मंत्री डहरिया ने कहा… रायपुर में पीलिया फैलना नगर निगम की गलती

रायपुर . कोरोना वायरस का कहर अभी कम था कि नगर निगम की लापरवाही के चलते रायपुर में पीलिया भी कहर बनकर टूटा है। Jaundice in Raipur रायपुर में अभी तक पीलिया के 78 मामले सामने आए। इस बारे में जब नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया से किसकी गलती? से जुड़ा सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसे सीधे तौर पर नगर निगम की लापरवाही करार दिया।

कहा कि जोन कमिश्नर को हटा दिया गया है और जरूरत पड़ी, तो कार्रवाई भी करेंगे। उन्होंने कहा कि पेयजल उपलब्ध कराने में कमियां रह गई थी, जिससे पीलिया फैला। आगे कहा, जिन लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई जारी है।

राजधानी में (Jaundice in Raipur) पीलिया फैलने की सूचना पर, प्रशासन में हडकंप मची हुई है। कोरोना संक्रमण के बीच, पीलिया की दस्तक ने राजधानीवासियों की परेशानी बढ़ा दी है।

हेपेटाइटिस ई और ए की पुष्टि

राजधानी के स्वीपर कॉलोनी, आमानाका और मुठपुरैना में हेपेटाइटिस ई और ए के मरीज (Jaundice in Raipur) मिलने की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने की हे। स्वास्थ्य विभाग की सीएचएमओ डॉक्टर मीरा बघले ने बताया, कि पीलिया की सूचना मिलने पर जांच की जा रही है। प्रभावित इलाकों में कैंप लगाकर जांच की जाएगी।

यह भी पढ़े: Corona Effect In MP: AIIMS के डॉक्टरों से पुलिसकर्मियों ने की मारपीट, सिपाही लाइन अटैच

25 से ज्यादा हुई थी मौत

पिछली बार राजधानी में पीलिया ने दस्तक (Jaundice in Raipur) दी थी। तब 25 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी। पीलिया की मौत का कारण विभागीय अधिकारियों ने पाईप लाइन में लीकज होना बताया था। राजधानी की अधिकतर पाइप लाइन नालों के अंदर से गई है।

केज होने से गंदगी भी पानी के साथ लोगों के घर पहुंच रही है। राजधानीवासी इस गंदगी को पीकर बीमार हो रहे है। वर्तमान स्थिती को देखकर न्यूज स्लॉट्स लोगों से पानी उबालकर पीने की अपील करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*