forest

lockdown Effect In MP: सर्दी-बुखार से पीड़ित वनकर्मी, नहीं करेंगे जंगल की निगरानी में

अपर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक ने जारी किया निर्देश

भोपाल. lockdown Effect In MP: सर्दी-बुखार से पीड़ित वनकर्मी जब जंगल में गश्त नहीं कर सकेंगे। मध्यप्रदेश वन विभाग के अधिकारियों ने यह निर्देश जारी किया है। जंगल क्षेत्र में संक्रमण ना फैले, इसलिए इस निर्देश का पालन सभी कर्मचारियों को करना होगा। बीमारी में ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों के लिए, यह राहत भरा निर्देश है।

नेशनल जू अथॉरिटी के मद्देनजर निर्देश

मध्य प्रदेश में 10 नेशनल पार्क, 6 टाइगर रिजर्व और 25 अभ्यारण्य है। प्रदेश के वन्य प्राणी कोरोना संक्रमण की चपेट में ना आए, इसलिए नेशनल जू अथाॅरिटी ने हिदायत रखने का निर्देश (lockdown Effect In MP) दिया है। नेशनल जू अथॉरिटी के निर्देश के बाद अपर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक ने यह निर्देश जारी किया है।

यह भी पढ़े: थोड़ी देर में होगा फैसला.. भारत में लॉकडाउन बढ़ेगा या नहीं, विडियो कांफ्रेंसिग जारी

संरक्षित में नहीं कोरोना संक्रमण

अपर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक जेएस चौहान ने संरक्षित क्षेत्र में कोरोना संक्रमण ना होने की पुष्टि की है। उन्होंने मीडियाकर्मियों को बताया कि, संरक्षित क्षेत्र में अब तक संक्रमण की जानकारी नहीं मिली है। वनकर्मी निर्देशों का पालन करें, इसलिए फील्ड डायरेक्टरों को मॉनीटरिंग का निर्देश (lockdown Effect In MP) दिया है। अधिकारियों-कर्मचारियों को खांसी-बुखार हो, तो अधीनस्थ अफसरों को जानकारी देने का निर्देश दिया है।

यह भी पढ़े: College hostel में न मिले खाना, हो परेशानी तो यहां शिकायत होगी दर्ज

MP के संरक्षित स्थानों की संख्या

  • अभ्यारण्य-25
  • नेशनल पार्क- 10
  • चिड़ियाघर-3
  • टाइगर रिजर्व-6

देश प्रदेश की खबरे पढ़ने के लिए क्लिक करें यहां…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*