kamal has write open letter to PM Modi

Kamal hasan ने पीएम को लिखा लेटर, लॉकडाउन नोटबंदी से भी बड़ी भूल

रायपुर . साउथ फिल्मों के सुपरस्टार एक्टर और राजनेता kamal hasan कमल हासन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला पत्र लिखा है। उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन मोदी सरकार द्वारा की गई नोटबंदी से भी बड़ी भूल है।

Read more – लोक शिक्षण संचालक की दो टूक, निजी स्कूल नहीं काटेंगे शिक्षको की सैलरी

कमल हासन kamal hasan ने लिखा- मैंने 23 मार्च को लिखे गए अपने लेटर में ये विनती की थी कि ऐसी स्थिति उत्पन्न ना की जाए जिसकी वजह से देशभर के गरीबों को दिक्कतों का सामना करना पड़े, but मगर उसके अगले दिन लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया। ठीक वैसे ही जैसे नोटबंदी का ऐलान किया गया था।

समय आपको गलत साबित करेगा

मगर इसके बावजूद हमने आप पर अपना भरोसा जताया. पर मैं गलत था।और आप भी गलत थे। समय आपको गलत साबित करेगा। आप देश के लीडर हैं और 1.4 बिलियन लोग आपकी बातों को मानते हैं। सारा देश आप पर भरोसा करता है, becouse लेकिन लॉकडाउन को लेकर मेरे कुछ सवाल हैं। आपको बता दूं कि आज युवाओं को रोजगार खतरे में है। where जहां एक तरफ आपके कहने पर लोग तेल से दीया जला रहे हैं वहीं कई गरीब देश में ऐसे भी हैं जनके पास खाना पकाने के लिए तेल नहीं है।

साउथ सुपरस्टार कमल हासन kamal hasan भी मोदी के इस भाषण से काफी मायूस हैं। उन्होंने कहा है कि मोदी ने न तो कोरोना से निपटने के बारे में बताया और न ही कोई दूसरी बात की।

Read more – AROGYASETU APP देगा कोरोना संक्रमित मरीज की जानकारी

मोदी ने असल मुद्दे को दरकिनार कर दिया। कमल हसन ने कहा कि मैं भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की स्पीच सुनने का इंतजार कर रहा था. मुझे उम्मीद थी कि असल मुद्दों पर बातें की जाएंगी। समस्या का समाधान करने के साथ-साथ गरीब और इस घड़ी को झेल रही जनता के बारे में बातें होंगी। रात 9 बजे दीया जलाने की बात पर काफी जोक्स भी बन रहे है। लोग मेमे बना रहे हैं।

कमल ने कहा, लोग घरों से बाहर न निकलें

बता दें कि कमल हसन का जितना साऊथ और इंडियन फिल्म जगत में है, उतने ही वे राजनीति में भी पक्की खिलाड़ी है। यहां बता दें कि कमल हसन लोगों को घरों में रहने की अपील भी कर चुके हैं। कोरोना वारयस खतरा देश में कम होने के बजाए बढ़ता ही चला जा रहा है। शुक्रवार की स्थिति में देश में करीब 3 हजार 902 कोरोना के मरीज बताए गए है, जबकि करीब 68 लोग अपनी जान इस बीमारी से गवां चुके हैं। ऐसे में पीएम मोदी का जनता के बीच आकर रात को 9 बजे दीएं जलाने को कहना कहीं न कहीं लोगों के बीच दहशत और बढ़ा रहा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*