Jaundice in Raipur

jaundice In Raipur: रायपुर में बढ़े पीलिया के मरीज, बिजली बंद करके प्रशासन कम कर रहा संक्रमण

पीलिया का बहाना, शहर में सुबह बंद रहेगी बिजली

रायपुर. jaundice In Raipur: कोरोना संक्रमण के बीच राजधानी रायपुर में पीलिया के मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। पीलिया का संक्रमण (jaundice In Raipur) कम हो इसलिए लीकेज पाइप लाइन सुधारने की बजाय, जिला प्रशासन ने लाइट बंद करके संक्रमण कम करने की ठानी है।

यह भी पढ़े: कोरोना संकट के मद्देनजर 14 के बाद यूजीसी कर रहा शिक्षा व्यवस्था में बदलाव

नगर निगम के नलों से मोटर लगा कर पानी खीचने की शिकायत को लेकर, कलेक्टर ने निगम क्षेत्र के 26 इलाकों की बिजली सुबह एक घंटे काटने का आदेश (jaundice In Raipur) जारी किया है। कलेक्टर ने अपने आदेश में सुबह साढे़ 6 बजे से साढे सात बजे तक बिजली काटने के लिए निर्देशित (jaundice In Raipur) किया है।

यह भी पढ़े: Covid-19: देश में अब तक 1 लाख 86 हजार कोरोना टेस्ट.. 4.3 फीसदी पॉजिटिव

लोग मोटर से नल से पानी खींच रहे हैं। जिससे नलों में नालियों के गंदा पानी भी आ जा रहा है। शहर में पीलिया का प्रकोप फैला हुआ है। आदेश में इसी समस्या का हवाला देते हुए बिजली कटौती करने को कहा गया है।

पहुंच रहा है गंदा पानी

वाटर सप्लाई के पानी छत व ऊंचाई तक पहुंचाने के लिए अधिकांश लोगों ने मोटर लगा रखा है। प्रेशर बढ़ाने पर लिकेज की समस्या हो रही है। मोटर चलने से नाले-नालियों से गुजरी पाइप लाइनों से रिस कर गंदा पानी घरों में पहुंचने लगा है।

यह भी पढ़े: M.P. Electricity Department : समय पर किया बिजली बिल जमा, तो बिजली कंपनी देगी बिल में छूट

इसे लेकर शिकायतें दर्ज कराई जा रही है। जलापूर्ति के समय एक साथ अनेकों मोटर चलने से फोर्स कम होने लगा है। ऐसे में ऊंचाई वाले स्थानों पर पानी चढऩा मुश्किल हो रहा है। ऐसे में जाने-अनजाने में नागरिक दूषित जल का भी पी रहे हैं।

पानी संचय करने के लिए मोटर लगाना जरूरी

गर्मी में शहर में महज दो घंटे जलापूर्ति मिल रही है। सुबह व शाम एक-एक घंटे नगर निगम द्वारा जलापूर्ति की जा रही है। गर्मी बढऩे के कारण एक घंटे ही पानी मिल रहा है। ऐसे में मोटर चलाकर टंकी में पानी संचय करना मजबूरी बनी हुई है।

यह भी पढ़े: Lockdown In CG: पीएम मोदी की गाइड लाइन पर होगा lockdown का फैसला- सीएम भूपेश बघेल

मोटर से पानी खींचे जाने से आगे के मकानों में पानी नहीं पहुंच रहा है। पेयजल आपूर्ति ठप होने के बाद निगम की अनुशंसा पर कलेक्टर ने ठोस कदम उठाया है। नागरिकों का कहना है कि पानी में फोर्स कम आने पर मजबूरन छोटा मोटर लगाना पड़ता है। मोटर न चलने से बूंद -बूंद पानी आता है।

रायपुर के इन इलाको में बंद रहेगी लाइट

  • गैस गोदाम क्षेत्र, गुढियारी पड़ाव, नया तालाब क्षेत्र, डीडीनगर क्षेत्र एवं 26 ब्लाक मूर्रा भट्टी क्षेत्र-नेता जी कन्हैलाल बाजारी वार्ड।
  • ब्रम्हदेईपारा, साहूपारा, श्री नगर बस्ती, शिवानंद नगर एवं शिव बिहार क्षेत्र – वीर शिवाजी वार्ड।
  • प्रेमनगर, तुलसी नगर, गुलाब नगर, दिक्षा नगर, एवं सतनामी पारा का संपूर्ण क्षेत्र- ठक्कर बप्पा वार्ड।
  • सतनामीपारा, खालबाड़ा, मंगलबाजार, शुक्रवारी बाजार का संपूर्ण क्षेत्र-दानवीर भामाशाह वार्ड।
  • एक चौक स्थित सड्डू बस्ती- कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड।
  • बीएसयूपी-आरपी रियल स्टेट, खालबाड़ा सड्डू – कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड।
  • बीएसयूपी- खेमका, सड्डू – कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड।
  • दलदल सिवनी- कुशाभाऊ ठाकरे वार्ड।
  • लोधी पारा- महात्मा गांधी वार्ड।
  • गंगा नगर- महात्मा गांधी वार्ड।
  • चंद्रशेखर नगर- महात्मा गांधी वार्ड।
  • बंजरपारा- मोलीलाल नेहरू वार्ड।
  • खपरा भट्ठी, समता कालोनी- शहीद चूड़ामणी वार्ड।
  • मंगल बाजार- ठाकुर प्यारेलाल वार्ड।
  • बंधवापारा- खोखोपारा, बनियापारा-महंत लक्ष्मीनारायण वार्ड।
  • शिवनगर- श्रीराम नगर- डॉ.खूब चंद बघेल वार्ड।
  • चौरसिया कॉलोनी,आयोध्या नगर, जोगी नगर,भैरव नगर, मोती नगर- चंद्रशेखर वार्ड।
  • संतोषीनगर, संजय नगर, कुकरीपारा का संपूर्ण क्षेत्र।
  • कमासीपारा, बैजनाथ पारा,सारथी चौक, भोई पारा,लोधी पारा, विश्वकर्मा चौक, आमापारा, अर्जुन नगर, राखी नगर एवं नागोराव बस्ती।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*