Rapid test kit, gets green signal,

एंटी बॉडी का पता लगाएगी स्वदेशी किट ‘एलिसा‘, पुणे में हुआ तैयार कोविड कवच

नई दिल्ली. कोरोना महामारी (Corona epidemic) से पूरी दुनिया कराह उठी है। रोज दुनिया सहित देश में नए मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच भारत ने कोरोना वायरस की जांच को लेकर एक बड़ी कामयाबी हासिल की है।

कोरोना वायरस की एंटी बॉडी का पता लगाने के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (National Institute of Virology) का स्वदेशी टेस्टिंग किट अब इस जंग में देश का हथियार बनेगा।

कोरोना संक्रमण काल के बीच 50 आईएएस अफसरों का तबादला

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के मुताबिक पुणे नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (National Institute of Virology) ने कोरोना वायरस कोविड-19 की एंटी बॉडी का पता लगाने के स्वदेशी एंटी सार्स सीओवी-2 किट बना ली है। स्वास्थ्य मंत्री के इस किट को मुंबई में 2 जगहों पर मान्यता भी दी गई है। इसमें उच्च संवेदनशीलता के सात ही जांच की सटीकता भी है। किट के जरिए ढाई घंटे में एक साथ 90 सैंपल जांचे जा सकते हैं।

छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था दुरुस्त करने भूपेश सरकार ने बकायदारों से शुरू की पैसों की मांग

पुणे में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) व नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (National Institute of Virology) ने कोविड-19 के एंटीबॉडी का पता लगाने के लिए स्वदेशी आईजीजी एलीसा टेस्ट ‘कोविड कवच एलीसा’ को विकसित किया है। वहीं ICMR ने एलीसा टेस्ट किट के बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए जाइडस कैडिला (Zydus Cadila) के साथ भागीदारी की है।

बिग ब्रेकिंग: कोरोना काल में कर सकेंगे हवाई यात्रा, भूपेश सरकार ने शुरू की यह सुविधा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*