Godhan Nyaay Yojana,

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में सीएम भूपेश ने बताया छत्तीसगढ़ में कोरोना का हाल

रायपुर . मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुरुवार को congress कांग्रेस वर्किेंग कमेटी की बैठक में शामिल हुए। इस बैठक की अध्यक्षता कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी congress ने की। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं लोकसभा सांसद राहुल गांधी भी बैठक में उपस्थित थे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित इस बैठक में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल congress ने बैठक में छत्तीसगढ़ में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं बचावों और जरूरतमंद लोगों के लिए किए जा रहे राहत के कार्यों की ताजा स्थिति की जानकारी दी। बघेल ने बैठक में बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस के 36 मरीज संक्रमित पाए गए थे। जिनमें से 28 मरीज स्वस्थ्य हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, शेष 8 मरीजों का इलाज जारी है, उनकी हालात भी ठीक है।

ये भी पढ़े पुस्तक दिवस पर सीएम बोले, सही और गलत का फर्म समझा देती हैं किताबें

56 लाख परिवारों की मदद

बघेल ने बताया कि छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन लागू है। कुछ जरूरी सेवाओं के लिए छूट दी गई है। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। गरीब परिवारों को तीन माह का राशन नि:शुल्क दिया जा रहा है। प्रदेश के 56 लाख गरीब परिवारों को अप्रैल एवं मई दो माह का राशन नि:शुल्क प्रदान किया गया है। जून माह का राशन भी नि:शुल्क दिया जाएगा। मनरेगा के तहत प्रदेश की कुल 11,497 ग्राम पंचायतों में से 9494 ग्राम पंचायतों में 41 हजार 495 कार्य प्रारंभ किए गए हैं, जिनमें 11 लाख 78 हजार से अधिक मजदूर काम कर रहे हैं।

केंद्र से मांगे 30 हजार करोड़

मुख्यमंत्री बघेल ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में कहा कि कोविड-19 संकट के समय केन्द्र सरकार को आगे बढक़र राज्यों को आर्थिक सहायता दी जानी चाहिए। तभी कोविड-19 के विरूद्ध इस लड़ाई को जीता जा सकेगा। उन्होंने सोनिया गांधी को बताया कि राज्य सरकार द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से 30 हजार करोड़ रूपए के पैकेज की मांग की गई है। जिससे प्रदेश के लाखों जरूरतमंद परिवारों के लिए राहत और कल्याणकारी योजनाओं और राज्य के सामान्य काम-काज का संचालन सुचारू रूप से संभव हो सकेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*