Covaxin,

भारत बायोटेक Covaxin का परीक्षण टीका लगवाया स्वास्थ्य मंत्री ने,बोले हमारे लिए गर्व की बात

परीक्षण में तीसरे चरण के प्रतिभागी बने स्वास्थ्य मंत्री

नई दिल्ली। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने भारत बायोटेक के Covaxin का परीक्षण टिका लगवाया है। टीकाकरण के बाद विज ने मीडिया से कहा “यह हर भारतीय के लिए गर्व की बात है कि भारत बायोटेक Covid-19 के लिए एक स्वदेशी टीका Covaxin तैयार किया है। मैंने तीसरे चरण के परीक्षण के लिए प्रतिभागी बनने के लिए स्वेच्छा से भाग लिया।”

उन्होंने इसके पीछे की वज़ह बताते हुए कहा कि “ऐसा मैंने इस लिए किया ताकि लोग अपने डर को दूर करें और स्वयं सेवा के लिए आगे आएं। ये परिक्षण वैक्सीन विकसित करने की पूरी प्रक्रिया में तेजी लाएगा।”

डॉक्टरों की क्षमता पर भरोसा

टीका परीक्षण में भाग लेने के अपने निर्णय पर विस्तार से विज ने कहा “मुझे हमारे डॉक्टरों की क्षमता पर पूरा भरोसा है। पहले दो परीक्षण जो प्रतिबंधित श्रेणियों के लिए हुए थे, लेकिन तीसरे चरण का परीक्षण उच्च जोखिम वाले श्रेणी के लोगों के लिए भी खुला था।” उन्होंने कहा कि “इस परीक्षण के दौरान मुझे एक मिनट के लिए भी डर नहीं लगा। मुझे टीका लगाया गया है और अब मैं अपने कार्यालय में आकर हर रोज की तरह ही काम कर रहा हूँ।”

Covaxin से मिल सकता है छुटकारा

गौरतलब है कि “स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज 67 साल के है, जो खुद एक डायबिटिक पेशेंट हैं। वह संभावित कोरोना वायरस वैक्सीन Covaxin के तीसरे चरण के परीक्षण के लिए राज्य में पहले व्यक्ति है जिन्होंने अपने ऊपर ट्रायल करवाया हैं।”

मंत्री ने कहा कि लोगों को महामारी के कारण विभिन्न कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था। “वे परिवार के कार्यों में भाग लेने या अपने प्रियजनों से मिलने, सिनेमा हॉल में फिल्में देखने में असमर्थ हैं। बच्चे स्कूलों और कॉलेजों में नहीं जा सकते, बसें खाली चल रही हैं। लोग इस महामारी से जल्द से जल्द छुटकारा पाना चाहते हैं। मुझे लगता है Covaxin अगर सफल हुआ तो जल्द ही इससे छुटकारा मिल सकता है।”

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*