pan masala banned

Gutkha-gudakhu Ban: लॉकडाउन तक रायपुर में गुटखा, गुडाखू और तंबाखू की नहीं होगी बिक्री

रायपुर कलेक्टर ने जारी किया आदेश

रायपुर. जिला प्रशासन ने कोरोना रोकथाम को ध्यान में रखते हुए रायपुर में गुटखा, तंबाबू और गुड़ाखू उत्पादों की खरीद फरोख्त पर रोक (Gutkha-gudakhu Ban) लगा दी है। छोटे दुकानदार व पनवाड़ी वाले भी यह उत्पाद नहीं बेच पाएंगे।

यह भी पढ़े: Bailadila Hills of CG: छत्तीसगढ़ की बैलाडीला पहाड़ियों में मिला जुरासिक काल के दुर्लभ ट्री फर्न

जिला कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने रविवार को इसका आदेश जारी कर दिया। इस बैन की सबसे बड़ी वजह यह है कि लोग गुटखा खाने के बाद कहीं भी थूक नहीं पाएंगे। गुटखा, गुडाखू और तंबाखू (Gutkha-gudakhu Ban) बैन के साथ ही कहीं पर भी थूकना भी प्रतिबंधित किया गया है।

जारी निर्देश में कहा है कि गुटखा, गुडाख् और तंबाखू उत्पादों पर बैन लॉकडाउन अवधि और उसके बाद भी एहतियातन जारी रहेगा। यदि किसी ने आदेश का उल्लघंन किया तो धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। इसमें जुर्माने के साथ सजा का प्रावधान भी होगा।

क्या थूकने से कोरोना का खतरा

विशेषज्ञों का कहना है कि हाल ही में जो कोरोना पॉजीटिव मिल रहे हैं, उनमें इसके लक्षण भी दिखाई नहीं दे रहे हैं। ऐसे में उक्त पॉजीटिव की संख्या कहीं से भी हो सकती है। यह भी हो सकता है, कि जिसमें लक्षण नहीं दिख रहे वह इधर-उधर घूमता मिले।

यह भी पढ़े: SindhiaWrote A Letter: सिंधिया ने कृषि मंत्री को पत्र लिखकर की मांग, कांग्रेस ने कसा तंज

आम तौर पर कोरोना का संक्रमण खांसने या छींकरने से होता है, लेकिन मुंह की लार भी इसके लिए जिम्मेदार है, उसी तरह से कफ भी संक्रमण फैला सकता है। जब कोई व्यक्ति गुटखा, गुडाख् और तंबाखू (Gutkha-gudakhu Ban) खाकर या अन्य पदार्थ खाकर यहां-वहां थूकता है तो मुंह से ये वायरस बाहर आ जाता है। फिर इसके संक्रमण में आने वालों के मरीज में तब्दील होने की संभावना बढ़ जाती है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*