Government schools, Drug spray, Negligence, District Education Officer (DEO), GR Chandrakar, Damnation,

शिक्षा सचिव के फरमान की अनदेखी, 15 प्राचार्यों को डीईओ ने लगाई फटकार

रायपुर। राजधानी के शासकीय स्कूलों में दवा का छिड़काव कराने में लापरवाही बरतने पर 15 प्राचार्यों को जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) जीआर चंद्राकर ने जमकर फटकार लगाई है। प्राचार्यों को निर्देशों का नियमानुसार पालन करने और कार्यप्रणाली सुधारने का निर्देश डीईओ दिया है।

यह है पूरा मामला

समग्र शिक्षा संचालक जितेंद्र शुक्ला ने १ मार्च को शिक्षा विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखा था। पत्र में उल्लेख था कि सभी स्कूलों में साफ सफाई, दवा का छिड़काव किया जाए और विद्यार्थियों को फुल ड्रेस पहनकर स्कूल आने का निर्देश दिया जाए। समग्र शिक्षा संचालक का निर्देश मिलने में डीईओ चंद्राकर ने सभी स्कूलों के प्राचार्यों को अपने स्कूलों में साफ सफाई करने और दवा का छिड़काव कराने का निर्देश दिया था। संचालक के निर्देश का राजधानी में कितना पालन हुआ? शासकीय स्कूलों में राज्य सरकार की योजनाओं का क्रियान्वन किस तरह से हो रहा है? इस बात की जानकारी लेने के लिए डीईओ ने शनिवार को शासकीय स्कूलों के प्राचार्यों की कार्यप्रणाली

जांच की। कार्यप्रणाली जांचने के दौरान १५ स्कूलों में साफ-सफाई, दवा का छिड़काव ना होने एवं योजना में फिसड्डी होने की जानकारी मिली तो फटकार लगाते हुए कार्यप्रणाली सुधारने की बात कही है।

1400 शासकीय और 850 निजी स्कूल

शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार रायपुर जिले में १४०० शासकीय स्कूल ओर ८५० निजी स्कूल है। इन सभी स्कूलों में समग्र शिक्षा संचालक के निर्देश का सुर्कलर जारी हुआ है। शासकीय स्कूलों के प्राचार्यों की कार्यप्रणाली जांचने के दौरान डीईओ निजी स्कूलों का दौरा करेंगे और खामियां मिलने पर कार्रवाई करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*