Amit Jogi wrote on Twitter, Chhattisgarh is not a leader, he has lost his father…

अच्छा संकेत : जोगी के मस्तिष्क में दिखा रक्त प्रवाह, डॉक्टरों की टीम निगरानी में जुटी

रायपुर . छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी (critical jogi) के स्वास्थ्य में तो कुछ खास सुधार नहीं हुआ है, लेकिन उनके मस्तिष्क में खून का प्रवाह देखा गया है। डॉक्टरों ने इसे अच्छे संकेत बताया है।हालांकि डॉक्टरों के सामने जोगी के मस्तिष्क में हलचल नहीं होने भी मजबूरी भी है जोगी का हार्ट ठीक से काम कर रहा है। ब्लड प्रेशर सहित तमाम अंग सही से काम कर रहे हैं। जोगी को वेंटीलेटर पर रखा गया है। डॉक्टरों की टीम का कहना है कि वे वेंटीलेटर के जरिए मूवमेंट कर रहे हैं। वेंटीलेटर हटाने के बाद की परिस्थिति के बारे में अभी अनुमान नहीं लगाया जा सका।

सिंगापुर के न्यूरोलॉजिस्ट से हुई चर्चा

पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी अभी भी (jogi in coma) कोमा में हैं। उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हो रहा है। जोगी रायपुर के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। उनका मस्तिष्क में मूवमेंट नहीं हो रही है, जिससे स्थिति गंभीर हो गई है। (critical jogi) डॉक्टरों की टीम ने जोगी का म्युजिक और इंफ्रारेड तकनीक से इलाज करने की कोशिश की है, लेकिन उसमें कोई कामयाबी नहीं मिली।

ये भी पढ़े – मोदी सरकार के आर्थिक पैकेज के खिलाफ छत्तीसगढ़ में शुरू हो गया आंदोलन

अब डॉक्टरों की टीम ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सिंगापुर नेशनल यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में न्यूरोलॉजी विभाग के प्रमुख विजय कुमार शर्मा से परार्मश मांगा है। (jogi in coma) बातचीत के दौरान जोगी की पत्नी रेणु जोगी और पुत्र अमित जोगी भी मौजूद रहे। इसके बाद अब डॉक्टरों की टीम के बीच निर्णय हुआ है कि जोगी को (critical jogi) सपोर्टिव ट्रीटमेंट ही दिया जाएगा। बता दें जोगी अभी कोमा की स्थिति में वेंटीलेटर पर जीवित हैं। उन्हें वेंटीलेटर की जरिए सांस दी जा रही है। जोगी का यूरीन आउटपुट, ब्लड प्रेशर, ह्यद नियंत्रित है।

ये भी पढ़े – नक्सलगढ़ में पहली बार मिला रिमोट बम, पुलिस महकमें में हडकंप

निजी अस्पताल में भर्ती

सांस रूकने की वजह से रायपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराए गए, पूर्व सीएम का उपचार कर रहे डॉक्टर सुनील खेमका ने उनकी हालत सुधार बताया था। डॉ. खेमका का कहना है, कि पूर्व सीएम की सांस इमली का बीज गले में अटकने से रूक गई थी। (jogi in coma) बीज को शरीर से बाहर निकाल दिया गया है। पूर्व सीएम अजीत जोगी को शनिवार की दोपहर को निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। पूर्व सीएम अजीत जोगी के बेटे, अमित जोगी ने कॉर्डिक अटैक आने की बात कही थी। बड़ी संख्या में जोगी समर्थक अस्पताल के बाहर इकट्‌ठा हो गए थे। प्रदेश के राजनेताओं ने अमित जोगी से बात करके उनके पिता का हाल चाल पूछा था।

देश दुनिया की तमाम ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*