Covaxine,

अच्छी खबर: भारत बायोटेक अक्टूबर से शुरू करेगी कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल

26,000 भागीदारों पर तीसरे चरण का परीक्षण

दिल्ली। कोरोना संक्रमण की वैक्सीन, कोवैक्सीन (Covaxine) के तीसरे चरण का ट्रायल भारत बायोटेक ने शुरू कर दिया है।

कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक कृष्णा एला ने सोमवार को यह जानकारी दी। इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित करते हुए एला ने कहा कि कंपनी कोविड-19 के लिए एक और वैक्सीन पर काम कर रही है। यह नाक के जरिये दी जाने वाली ड्रॉप के रूप में होगी। यह वैक्सीन अगले साल तक तैयार हो जाएगी।

ICMR के साथ भागीदारी

भारत बायोटेक के चेयरमैन कृष्णा एला ने कहा, कि हमने कोविड-19 (Covaxine) के टीके के लिए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के साथ भागीदारी की है। इस टीके का तीसरे चरण का परीक्षण शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि भारत बायोटेक दुनिया की एकमात्र टीका कंपनी है, जिसके पास जैव सुरक्षा स्तर-3 (बीएसएल 3) उत्पादन सुविधा है। पिछले महीने कंपनी ने कहा था कि उसने पहले और दूसरे चरण के परीक्षण का अंतरिम विश्लेषण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है और वह 26,000 भागीदारों पर तीसरे चरण का परीक्षण शुरू करने जा रही है।

अक्टूबर से परीक्षण करने की मांगी अनुमति

भारत बायोटेक कोवैक्सीन (Covaxine) का विकास आईसीएमआर-राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) के साथ भागीदारी में कर रही है। सूत्रों ने बताया कि कंपनी ने दो अक्टूबर को भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) से टीके के तीसरे चरण के परीक्षण के लिए अनुमति मांगी थी। एला ने कहा, हम एक और वैक्सीन पर काम कर रहे हैं। यह नाक के जरिये दी जाने वाली ड्रॉप के रूप में होगी। मुझे लगता है कि अगले साल तक हम यह वैक्सीन आबादी को उपलब्ध करा पाएंगे।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*