Gas leaks: People falling on the road, 250 hospital reached, the risk of death is increasing

गैस लीक : सडक़ पर गिर रहे लोग, ढाई सौ अस्पताल पहुंचे, मौत का खतरा बढ़ रहा

रायपुर . आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम में गैस रिसाव Gas leak vizag से 8 लोगों की मौत हो गई है। यह हादसा वहां एक फार्मा कंपनी में हुआ है। गैस लीकेज के बाद पूरे शहर में तनाव का माहौल बन गया है। अभी हालात काबू में नहीं आ पाए हैं। और भी लोगों की मौत की खबर मिल सकती है। स्थानीय प्रशासन और नेवी ने फैक्ट्री के पास के गांवों को खाली करा लिया है। कहा जा रहा है कि भोपाल गैस त्रासदी जैसे हालात बन सकते हैं।

आरआर वेंकटपुरम में स्थित विशाखा एलजी पॉलिमर कंपनी से खतरनाक जहरीली गैस का रिसाव Gas leak vizag हुआ है। इस जहरीली गैस के कारण फैक्ट्री के तीन किलोमीटर के इलाके प्रभावित हो गए हैं। इस क्षेत्र में काफी संख्या में लोग रहते हैं। फिलहाल, पांच गांव खाली करा लिए गए। सैकड़ों लोग सिर दर्द, उल्टी और सांस लेने में तकलीफ के साथ अस्पताल पहुंच रहे हैं। यह देखते हुए आंध्रप्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री भी वहां पहुंचने वाले हैं।

3 हजार लोगों का रेस्क्यू किया

गैस लीक का आलम यह है कि लोग चलते हुए सडक़ों पर ही गिरने लगे। करीब 10 घटों की जुश्त-जू के बाद रिसाव पर काबू पा लिया गया है, लेकिन इससे हालात को पूरी तरह से काबू नहीं कहा जा रहा है। इसके साथ ही फैक्ट्री के आस-पास से 3 हजार लोगों का रेस्क्यू किया गया है।

ये पढ़ेकांग्रेस ने बृजमोहन को घेरा, भाजपा शासित राज्यों में भी शराब बिक्री, वहां प्रेसवार्ता करो

1500-2000 बेड की व्यवस्था

अभी 170 लोगों को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। सीएम जगन मोहन रेड्डी भी विशाखापट्टनम के लिए रवाना हो गए हैं। ये ताजा आंकड़े हैं कि अभी तक 8 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 26 लोगों की हालत नाजुक बताई गई है। इसमें अधिकतर बुजुर्ग और बच्चे हैं। शासन ने बिगड़ते हालत को देखते हुए एक प्राइवेट अस्पताल में 1500-2000 बेड की व्यवस्था कर ली है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि स्थिति कितनी Gas leak vizag भयावह है। बताया जा रहा है कि यहां पीवीसी या स्टेरेने गैस का रिसाव हुआ है। गैस लीकेज के असली कारण का अभी पता नहीं चल पाया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*