mla Shivratan Sharma,

विधायक शिवरत्न शर्मा ने सरकार की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

प्रदेश सरकार और प्रशासन की विफलता पर विधायक शर्मा ने की टिप्पणी

रायपुर. कोरिया के क्वारेंटाइन सेंटर से झारखंड पहुंचे 5 श्रमिकों के कोरोना पॉजीटिव पाए जाने पर, बीजेपी विधायक ने राज्य सरकार की कार्यप्रणाली (Functioning of Bhupesh government) पर सवाल खड़ा किया है।

यह भी पढ़े: अब रायपुर में भी घर बैठे मिलेगी शराब

बीजेपी विधायक शिवरत्न शर्मा ने क्वारेंटाइन सेंटर्स की सुरक्षा और प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली (Functioning of Bhupesh government) पर उंगली उठाई है। विधायक शिवरत्न शर्मा ने कहा, कि क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखे गए लोग शिविर छोड़कर भाग रहे हैं। शिविरों में राज्य सरकार ने पुख्ता इंतजाम नहीं किया है।

पोर्टल और समाचार पत्र को दिया हवाला

विधायक शर्मा ने कहा कि झारखंड में हाल ही मिले पाँच नए कोरोना संक्रमित मजदूर कोरिया के क्वारेंटाइन सेंटर से होकर लौटे थे। छत्तीसगढ़ में इन मजदूरों को पहले राजनांदगाँव में 15 दिन और फिर कोरिया में 15 दिन (कुल 30 दिन) क्वारेंटाइन सेंटर में रखे जाने के बाद झारखंड भेजा गया था।

यह भी पढ़े: बिग ब्रेकिंग: पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बिगड़ी तबीयत

विधायक शिवरत्न शर्मा ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार यह स्पष्ट करे कि क्या इन मजदूरों को प्रदेश में क्वारेंटाइन रखा गया था? यदि वे प्रदेश के दो क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखे गए तो क्या उनकी जाँच हुई थी? क्या प्रदेश सरकार ने इन मजदूरों की जाँच रिपोर्ट के मद्देनज़र इलाज की व्यवस्था की थी और इस बारे में झारखंड की सरकार को इत्तिला की थी?

सरकार कर रही सिर्फ दावे

विधायक शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार (Functioning of Bhupesh government) क्वारेंटाइन सेंटर्स की व्यवस्था को लेकर बड़े-बड़े दावे कर  रही है। क्वारेंटाइन सेंटरों की हकीकत सरकार के दावों के विपरीत है। हकीकत यह है, कि क्वारेंटाइन सेंटर्स भगवान भरोसे छोड़ दिए गए हैं। जहाँ क्वारेंटाइन कर रखे गए मजदूरों की देखभाल तक की पुख्ता व्यवस्था नहीं है।  

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*