Four workers were absconding

चार मजदूर हुए फरार.. धमतरी जिले में रोके गए थे हरियाणा राजस्थान के 64 मजदूर

अस्थाई सेंटर में रखे गए थे सभी मजदूरों को, स्कूल की खिड़की तोड़कर फरार

धमतरी. जिले के कचना गांव के अस्थाई सेंटर से चार मजदूर खिड़की तोड़कर फरार हो गए हैं। बता दें कि कोरोना संकट के बीच बाहर से आने जाने वालों को प्रशासन अलग रख रहा है और इसी कड़ी में कचना में कुल 64 मजदूरों को गांव के ही एक स्कूल में ठहराया गया था।

बताया जा रहा है कि सभी मजदूर हरियाणा और राजस्थान से आए थे। इस घटना के बाद से पूरे प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया है। चारों मजदूर यदि संक्रमित हों तो जिले में कोरोना संक्रमण को लेकर खतरा बढ़ सकता है। लिहाजा उनकी तलाश तेज कर दी गई है।

बता दें कि कोरोना वायरस के चलते देश भर में लागू लॉक डाउन के बाद काम बंद होने से पांच महीने से अपने घर बार से दूर रह रहे राजस्थान, हरियाणा के सभी 64 मजदूर ट्रक में सवार होकर ओड़िशा से वापस लौट रहे थे। तभी बिरेझर चौकी अतंर्गत आने वाले ग्राम कचना में उन्हें रोका गया था। फिर कचना के शासकीय हाई स्कूल में सभी ठहराया गया है।

बुधवार की रात करीब 9 बजे खाना खाने के बाद सब अपने-अपने कमरे में चले गए तभी इन मजदूरो मे से हरियाणा के आसिफ खान, राजस्थान के यादिल सहुन और राहुल छत जाने के लिए सीढ़ी तक पहुंचे और खिड़की की ग्रिल तोड़कर 12 फीट उंचे दीवार को फांदकर फरार हो गए।

आनन-फानन में सभी की तलाश की गई लेकिन अभी तक चारों का पता नहीं चल पाया है। इधर स्कूल में हरियाणा और राजस्थानी मजदूरों की व्यवस्था में लगे लोगो ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा यहां तमाम जरूरी सुविधाए उपलब्ध कराई गई है लेकिन उनका भागना समझ परे है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*