Gupteshwar-Pandey,

बिहार के पूर्व DGP का ऐलान, किसी भी सीट से जीत सकता हूं चुनाव

राजनीतिक पारी पर खुल  कर बोले पांडये

बिहार. बिहार के डीजीपी पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) लेकर राजनीतिक पारी की शुरूआत करने वाले पूर्व डीजीपी (DGP) गुप्तेश्वर पांडेय ने किसी भी सीट से लड़कर जीतने का दंभ भरा है। राजनीतिक पार्टी में शामिल होने और चुनाव लड़ने के सवाल पर गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि क्या ये अवैध है?

मीडियाकर्मियों को दिए गए इंटरव्यू में पूर्व DGP पांडेय ने कहा, कि बिहार की जनता मुझे प्यार कर ती है। मैं कहीं से भी लड़कर जीत सकता हूं। चुनाव से मेरे वीआरएस को जोड़ना गलत है। पूर्व डीजीपी ने कहा, कि हर रोज अफवाह उड़ाकर मुझे विवादित बताया जा रहा है। मेरे खिलाफ विपक्ष चुनाव आयोग से शिकायत करें, यदि मैं गलत हूंगा तो चुनाव आयोग मुझे हटा देगा और मेरी बेइज्जती होगी। 34 साल से कैरियर बेदाग होने की बात कहने वाले गुप्तेश्वर पांडये ने कहा, कि विपक्ष माहौल बना रहा है, तो निर्वाचन आयोग को मुझे हटाना पड़े।

मेरे खिलाफ हो रही थी साजिश

मीडियाकर्मियों के सवाल का जवाब देते हुए गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा, कि मेरे खिलाफ साजिश की जा रही थी। मुझे पहले बदनाम किया जाता और फिर हटा दिया जाता है। साजिश की आशंका के चलते मैने वीआरएस लेने का फैसला लिया है। अगर मैं चुनाव में जाने का फैसला करता हूं तो इसमें क्या अनैतिक और अवैध है? किसी दल को ज्वाइन करना, या किसी पार्टी के से चुनाव लड़ना गलत तो नहीं है।

14 सीटो का ऑफर

पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने मीडियाकर्मियों को बताया कि 14 सीटों से चुनाव लड़ने का ऑफर आया है। मैं निर्दलीय भी चुनाव लड़कर अपनी सीट निकाल सकता हूं। वर्तमान में अभी राजनीति में जाने का फैसला नहीं किया है। अपने लोगों से सलाह मशवरा करूंगा और फिर चुनाव लड़ने का ऐलान करूंगा।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*